Vikas Dubey Case: विकास दुबे के सहयोगी जय वाजपेयी के खिलाफ गैंगस्टर ऐक्ट के तहत कार्यवाही

[ad_1]

कानपुर
कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे के सहयोगी जयकांत बाजपेयी के खिलाफ गुरुवार को गैंगस्टर ऐक्ट के तहत कार्यवाही की गई है। अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने गुरुवार देर रात एक बयान में बताया कि जयकांत बाजपेयी के विरूद्ध गिरोह बनाकर अपराध करने व अवैध संपत्ति अर्जित करने के संबंध में थाना नजीराबाद कानपुर में उप्र गैंगस्टर ऐक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। गैंग के अन्य सदस्यों में उसके भाई शोभित वाजपेयी, रजयकांत वाजपेयी तथा अजयकांत वाजपेयी शामिल हैं।

उन्होंने अपने बयान में आगे कहा कि जयकांत बाजपेयी व उसके साथियों का एक संगठित गिरोह है जो सरकारी जमीन पर कब्जा करने, विधि विरुद्ध जमाव, गाली गलौज, मारपीट कर जघन्य घटनाएं कारित कर अपने व अपने गिरोह के सदस्यों के आर्थिक लाभ के लिए समाज विरोधी क्रिया कलाप करता है। अभियुक्त जयकांत बाजपेयी वर्तमान में जिला जेल कानपुर देहात में बंद है जबकि शेष अन्य की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

आयकर विभाग और ईडी कर रही हैं जय की संपत्ति की जांच
उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने द्वारा कथित रूप से अर्जित की गई अवैध संपत्ति संबंधी का मामला आयकर विभाग (आईटी) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को सौंप दिया है। गृह विभाग के एक प्रवक्ता के अनुसार, वाजपेयी के खिलाफ मामला प्रथम दृष्टया सही प्रतीत होता है, इसलिए राज्य सरकार ने इस मामले को आयकर विभाग और ईडी को सौंपने का फैसला किया। गौरतलब है कि जयकांत मारे गए गैंगस्टर विकास दुबे का खास सहयोगी और खजांची माना जाता था।

पुलिस एनकाउंटर में मारा गया था विकास दुबे
आपको बता दें कि कानपुर में 2-3 जुलाई की रात बिकरू गांव में शूटआउट हुआ था। इस घटना में सीओ देवेंद्र मिश्रा समेत 8 पुलिसवालों की हत्या कर दी गई थी। जिसके बाद घटना के मुख्य आरोपी विकास दुबे को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया था। एनकाउंटर वाले दिन पुलिस विकास दुबे को उज्जैन से लेकर लौट रही थी। इस दौरान विकास ने भागने की कोशिश की और पुलिस टीम पर हमला भी किया।

(देश-दुनिया और आपके शहर की हर खबर अब Telegram पर भी। हमसे जुड़ने के लिए और पाते रहें हर जरूरी अपडेट)

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *