VIDEO: घोड़े पर सवार होकर Lockdown का पालन कराने निकले थे दारोगा, आयोग ने मांगी रिपोर्ट

[ad_1]

VIDEO: घोड़े पर सवार होकर Lockdown का पालन कराने निकले थे दारोगा, आयोग ने मांगी रिपोर्ट

घोड़े पर सवार होकर Lockdown का पालन कराने निकले दारोगा

इसलिए दरोगा ने घोड़ा चलाने के लिए दो नाबालिग बच्चों (Minior Childrens) को भी बुला लिया और घोड़े (Horse) पर सवार होकर हाथ में हैंडलर लाउडस्पीकर लेकर इलाके में निकल पड़े.

मुरादाबाद. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) तेजी से पैर पसार रहा है. इसी कड़ी में योगी सरकार ने अनलॉक 3.0 के पहले दिन लागू 55 घंटे के लॉकडाउन को सख्ती से पालन कराने का निर्देश दिए है. लेकिन मुरादाबाद (Moradabad) जिले में एक दारोगा को इस आदेश का पालन कराना भारी पड़ गया. दरअसल मुरादाबाद के थाना मझौला क्षेत्र की पुलिस चौकी जयंतीपुर पर तैनात दरोगा रियाज़ हैदर ज़ैदी ने एक घोड़े का इंतजाम किया और दारोगा जी घोड़े पर सवार हो गए. लेकिन 2020 के दौर के दरोगा को मोटर साइकिल तो चलानी आती थी. लेकिन घोड़ा चलाना नहीं आता था.

इसलिए दरोगा ने घोड़ा चलाने के लिए दो नाबालिग बच्चों को भी बुला लिया और घोड़े पर सवार होकर हाथ में हैंडलर लाउडस्पीकर लेकर इलाके में निकल पड़े. दरोगा चौकी क्षेत्र की सड़कों पर लोगों से ऐलान कर बोल रहे हैं कि बच्चे व बुजुर्ग घर से बाहर न निकले, और ज़रूरी होने पर जब बाहर निकले. वहीं मास्क ज़रूर लगाएं. दोनों बच्चे भी गर्मी में उस घोड़े की लगाम पकड़कर सड़क पर चलने लगे जिस घोड़े पर दरोगा सवार थे.

ये भी पढे़ं- राम मंदिर निर्माण: हाईकोर्ट का फैसला सुनकर जब भावुक हुए थे सीएम योगी…दारोगा को लगा कि उनकी इलाके में वाह-वाही होगी, लेकिन किसी ने दरोगा की वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. अब दारोगा को लॉकडाउन का पालन करना महंगा पड़ गया. वायरल वीडियो अब उत्तर प्रदेश बाल संरक्षण आयोग के अध्यक्ष डॉ विशेष गुप्ता के पास पहुंच गया. विशेष गुप्ता ने इस मामले में मुरादाबाद के एसएसपी प्रभाकर चौधरी को पत्र लिखकर एक रिपोर्ट मांगी है. रिपोर्ट मिलने के बाद दारोगा के खिलाफ किशोर न्याय अधिनियम 2015 के उल्लंघन के आरोप में कार्रवाई की जा सकती है.

(रिपोर्ट- फरीद शम्‍सी)



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *