UP: वाराणसी में सबसे ज्यादा Corona से दम तोड़ने वालों में व्यापारी और गृहणियां

[ad_1]

UP: वाराणसी में सबसे ज्यादा Corona से दम तोड़ने वालों में व्यापारी और गृहणियां

Corona से दम तोड़ने वालों में व्यापारी और गृहणियां

वाराणसी (Varanasi) में कोरोना संक्रमण से प्रभावित होने वालों में दूसरे नंबर पर प्राइवेट कर्मचारी हैं. अब तक 992 प्राइवेट कर्मचारी संक्रमित हुए हैं.

वाराणसी. कोविड-19 (Covid-19) से हर रोज संक्रमित होने वाले और दम तोड़ देने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है. वाराणसी में अब तक संक्रमित और मौत के आंकड़े को अगर प्रोफेशन वार देखें तो सबसे ज्यादा प्रभावित व्यापारी और कारोबारी ही हुए हैं. अब तक वाराणसी (Varanasi) में 100 लोगों की मौत हो चुकी है. कुल संक्रमित लोगों में लगभग 50% पॉजिटिव लोग केवल व्यापारी गतिविधियों से जुड़े हुए हैं. अब तक संक्रमित हुए 2460 व्यापारियों में 47 की मौत हो गई है. व्यापारियों के बाद सबसे ज्यादा कोरोना का वार घर की बागडोर संभालने वाली महिलाओं पर हुआ है. अब तक 22 गृहणियों की मौत हो गई है.

चेतावनी के बाद भी लापरवाही बरती गई तो आंकड़े बढ़ते जाएंगे. अब तक प्रभावित होने वाले व्यापारियों में सबसे ज्यादा शहर के लंका, कैंट, सिगरा, मंडुवाडीह, भेलूपुर थाना क्षेत्रों के हैं. यहां केस में अप्रत्याशित बढ़ोत्तरी हुई है. मौत के आंकड़ों पर अगर गौर फरमाएं तो 74 में से 32 की मौत व्यापारिक समुदाय से हुई है. ये आंकड़ा भी करीब चालीस फीसदी है. इन आंकड़ों को देखते हुए प्रशासन ने फैसला लिया है कि अब जोनवार व्यापारियों की एंटीजन जांच की जाएगी.

डीएम ने किया व्यापार मंडल से अनुरोध

इसके लिए डीएम कौशल राज शर्मा ने व्यापार मंडल के नेताओं से अनुरोध किया है कि सभी दुकानों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराएं. मार्केट में छोटी-छोटी कमेटी बनाकर रोटेशन से पूरे अनुशासन का पालन करवाएं और जो अनुशासन का पालन ना करें उनकी दुकान बंद करवाएं. साथ ही ये भी कहा गया है कि कोई भी व्यापारी, दुकानदार और व्यापार से जुड़े लोग जिनको ब्लड प्रेशर, शुगर की समस्या हो और जिनके पूर्व में हार्ट, किडनी, फेफड़े या फिर कैंसर आदि की बीमारी रही हो वे लोग प्रशासन के द्वारा जारी किए गए प्रारूप में अपनी पूरी डिटेल फीड करवा दें.तत्काल एंटीबायोटिक का ट्रीटमेंट करें चालू

ऐसे सभी लोगों को प्रीवेंटिव ट्रीटमेंट दिया जाएगा. सभी व्यापारियों से प्रशासन ने अपील की है कि आईवरमैक्कटिन 12mg का प्रीवेंटिव कोर्स भी फौरन लें और इन बीमारियों से ग्रसित व्यक्ति विशेष सतर्क रहें. यदि किसी के भी कोरोना प्रकार के लक्षण हैं तो तत्काल एंटीबायोटिक का ट्रीटमेंट चालू करें, अपनी सैंपलिंग करवाएं और सैंपल के रिजल्ट का इंतजार किए बिना डॉक्टरी परामर्श से ट्रीटमेंट चालू करा दें.

प्राइवेट कर्मचारी भी प्रभावित
वाराणसी में कोरोना संक्रमण से प्रभावित होने वालों में दूसरे नंबर पर प्राइवेट कर्मचारी हैं. अब तक 992 प्राइवेट कर्मचारी संक्रमित हुए हैं. जिनमे 11 की मौत हो गई है. 316 संक्रमित प्रवासियों में तीन ने दम तोड़ दिया है. स्वास्थ्य विभाग के योद्धा और उनके संपर्क में 314 लोगों में चार की मौत हो गई हैं.



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *