Unlock 2.0: अब जल्द ही होगा ताज का दीदार, आगरा किला भी खुलेगा

[ad_1]

Unlock 2.0: अब जल्द ही होगा ताज का दीदार, आगरा किला भी खुलेगा

जल्द होगा ताजमहल का दीदार (file photo)

बता दें कि आगरा के स्मारकों पर 17 मार्च से ताला लगा है. जनता कर्फ्यू से कुछ दिन पहले ही आगरा में ताजमहल (Taj Mahal) को बंद कर दिया गया था.

आगरा. कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus Infection) के मामले ना सिर्फ देश बल्कि उत्‍तर प्रदेश में लगातार बढ़ रहे हैं. हालांकि इस समय देश में अनलॉक 2.0 (Unlock 2.0) चल रहा है, लेकिन कोरोना को देखते हुए आगरा में ताजमहल (Taj Mahal) और बाकी स्मारक को फिर से खोलने की तैयारी में जिला प्रशासन जुट गया है. आगरा के जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह ने न्यूज18 से बातचीत में बताया कि पुरातत्व विभाग के साथ बैठक हुई है. उन्होंने बताया कि दूसरे चरण में ताजमहल और आगरा किला खोलने की तैयारी है. वहीं शेष स्मारक पहले चरण में खोलने की तैयारी की जा रही है. डीएम के मुताबिक जल्द स्मारक खोलने की तारीखों का ऐलान कर दिया जाएगा.

सिंह ने बताया कि ताजनगरी में चार माह से बंद जिम सेंटर और रेस्टोरेंट ग्राहकों के लिए खुलेंगे. सोमवार को कोविड समीक्षा बैठक के बाद जिला प्रशासन ने यह निर्णय लिया है. डीएम प्रभु एन सिंह ने बताया सभी रेस्टोरेंट में ग्राहक रात 10 बजे तक बैठकर खाना खा सकेंगे. इनके अलावा सभी जिम सेंटर सुबह शाम अपने निर्धारित समय पर खुलेंगे. साथ ही सभी पार्क भी अब दिनभर खुले रहेंगे. उन्होंने बताया कि प्रशासन, पुलिस, डाक्टर्स और कोरोना योद्धाओं की लगातार मेहनत का परिणाम सुखद रहा. अब आगरा में जांच के सापेक्ष तीन प्रतिशत से भी कम मरीज पॉजिटिव आ रहे हैं. ऐसे में आगरा के स्मारकों को खोलने के लिए कार्ययोजना तैयार कर ली गयी है. एक दो दिन में तारीखों का ऐलान भी हो जाएगा.

ये भी पढ़ें :- BJP मंत्री चेतन चौहान का हापुड़ के बृजघाट में हुआ अंतिम संस्कार, बेटे ने दी मुखाग्नि

बता दें कि आगरा के स्मारकों पर 17 मार्च से ताला लगा है. जनता कर्फ्यू से कुछ दिन पहले ही आगरा में ताजमहल को बंद कर दिया गया था. यह पहला मौका है जब इन स्मारकों को इतने लंबे समय के लिए बंद रखा गया है. बता दें कि 372 सालों में ताजमहल के दरवाजे पहली बार ढाई महीने से भी ज्यादा समय तक बंद रहे हैं. हालांकि केंद्र सरकार ने अनलॉक 2.0 के दौरान सभी स्‍मारक खोलने के आदेश दिए हैं, लेकिन इसका अंतिम फैसला राज्‍य सरकारों पर छोड़ा है. अगर यूपी की बात करें तो सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कई अहम फैसले लेने की जिम्‍मेदारी जिलाधिकारियों को दे रखी है.



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *