Sushma Swaraj Memory: किस तरह से सुषमा ने शिव तांडव से शंकराचार्य को भी चमकृत कर दिया था

[ad_1]

Sushma Swaraj Historical Shiv Tandav भारतीय जनता पार्टी की सांसद और युवा मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम महाजन से सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj Speech) का ऐसा ही एक वीडियो पोस्ट कर उनको याद किया है।

Edited By Vineet Tripathi | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

सुषमा स्वराज: वो नेता जो जरूरतमंदों के लिए मसीहा बन गईसुषमा स्वराज: वो नेता जो जरूरतमंदों के लिए मसीहा बन गई

नई दिल्ली

आज पूरा देश पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj Death Anniversary) को याद कर रहा है। दरअसल, लोग सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj Shiv Tandav) को बतौर विदेश मंत्री नहीं बल्कि संसद में खड़े होकर बड़े से बड़े नेता को चुप करा देने वाली प्रखर नेता को याद कर रहे हैं। सुषमा शब्दों की धनी नेता थी। जब वह संसद में किसी भी विषय में बोलतीं थीं तो विपक्ष भी ध्यान लगागर सुनता था। जितनी स्पष्टता उनके शब्दों में होती थी उनका चेहरा भी उतना ही उदीयमान होता था।

पूनम महाजन ने यूं याद किया

भारतीय जनता पार्टी की सांसद और युवा मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम महाजन से सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj Speech) का ऐसा ही एक वीडियो पोस्ट कर उनको याद किया है। उन्होंने लिखा है, ‘भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता, सारे भाजपा कार्यकर्ताओं के लिए मातृतुल्य व्यक्तित्व, आदरणीय सुषमा स्वराज जी को प्रथम स्मृतिदिन के अवसर पर विनम्र आदरांजली!’

उन्होंने जो वीडियो पोस्ट किया है उसमें सुषमा स्वराज सुषमा स्वराज मंच से संस्कृत की महिमा का बखान करते हुए शिव तांडव स्तोत्र सुना रही हैं। जिस लय में वो स्त्रोत सुना रही हैं उसे देख मंच पर आसीन कांची कामकोटि पीठ के शंकराचार्य भी बेहद प्रसन्न दिख रहे हैं। सुषमा स्वराज ने स्तोत्र एक हिस्सा ही पढ़ा लेकिन जिस स्पष्टता और उत्साह से उन्होंने पंक्तियां पढ़ीं वो सुनकर मौजूद लोगों ने तालियों से उन्हें शाबाशी दी।

सुषमा स्वराज की पहली पुण्यतिथि, बेटी बांसुरी ने यूं किया मां को याद

क्या कहा था सुषमा स्वराज ने

सुषमा स्तोत्र का एक हिस्सा सुनाकर कह रही हैं कि यहां बैठे किसी पांच साल के बच्च के सामने यदि मैं केवल ये दो श्लोक रख दूं और पूछूं कि बताओ इनमें से कौन सा रावण ने रचा होगा और कौन सा राम ने पढ़ा होगा तो वो आसानी से बता देगा कि डमड डमड डमड का श्लोक और नमामीशमीशान निर्वाण रुपं राम ने कहा होगा। ऐसी संस्कृत भाषा की वैज्ञानिकता है।

बता दें कि सुषमा पीएम नरेंद्र मोदी के पहले कार्यकाल में विदेश मंत्री रही थीं। 2019 में लोकसभा चुनाव में उन्होंने बीमारी के कारण चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया था। सुषमा के विदेश मंत्री के कार्यकाल के दौरान उनकी सक्रियता की काफी तारीफ होती थी। वह बीजेपी की दिग्गज नेता में शुमार होती थीं। सुषमा दिल्ली की सीएम भी रह चुकी थीं। अटल बिहारी वाजपेयी के पीएम रहने के दौरान वह उनके मंत्रिमंडल में भी शामिल हुई थीं।

NBT
Web Title sushma swaraj death anniversary her speech and shiv tandav video(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *