Smart India Hackathon 2020 के ग्रैंड फिनाले में बोले पीएम मोदी, नई शिक्षा नीति से आत्मनिर्भर होगा देश


Edited By Chandra Pandey | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

हाइलाइट्स

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2020 के ग्रैंड फिनाले के प्रतिभागियों को किया संबोधित
  • इस दौरान पीएम मोदी प्रतिभागी छात्रों से रूबरू भी हुए, उनके इनोवेशन के बारे में भी जाना
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई शिक्षा नीति 2020 की तारीफ करते हुए इसे युवाओं की आकांक्षाओं को पूरा करने वाला बताया

नई दिल्ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार शाम को स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2020 के ग्रैंड फिनाले (Grand Finale of Smart India Hackathon 2020) के प्रतिभागियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संवाद किया। प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए (PM Narendra Modi at Smart India Hackathon 2020) उन्होंने कहा कि 21वीं सदी ज्ञान की सदी है और तेजी से बदली दुनिया में भारत को भी तेजी से बदलना होगा। उन्होंने नई शिक्षा नीति की तारीफ करते हुए कहा कि इसमें पहले की कमियों को दूर किया गया है। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति नौकरी खोजने वालों के बजाय नौकरी देने वालों को बनाने पर जोर देती है।

नई शिक्षा नीति में पहले की कमियों को दूर किया गया: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि 21वीं सदी ज्ञान की सदी है और इस दौरान सीखने पर फोकस होना चाहिए। उन्होंने कहा कि तेजी से बदलती हुई दुनिया में भारत को अपनी वही प्रभावी भूमिका निभाने के लिए उतनी ही तेजी से बदलना होगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि नई शिक्षा नीति में पहले की कमियों को दूर किया गया है। उन्होंने कहा कि अब अगर कोई मैथ और म्यूजिक की एक साथ पढ़ाई चाहता है तो वह ऐसा कर पाएगा।

नई शिक्षा नीति से भारत की भाषाएं बढ़ेंगी: पीएम

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि नई शिक्षा नीति से न सिर्फ भारत की भाषाएं बढ़ेंगी बल्कि दुनिया भी भारत की समृद्ध भाषाओं से परिचित होगी। उन्होंने कहा, ‘अब एजुकेशन पॉलिसी में जो बदलाव लाए गए हैं, उससे भारत की भाषाएं आगे बढ़ेंगी, उनका और विकास होगा। ये भारत के ज्ञान को तो बढ़ाएंगी ही, भारत की एकता को भी बढ़ाएंगी। इससे विश्व का भी भारत की समृद्ध भाषाओं से परिचय होगा। और एक बहुत बड़ा लाभ ये होगा की विद्यार्थियों को अपने शुरुआती वर्षों में अपनी ही भाषा में सीखने को मिलेगा।’

स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन के प्रतिभागियों से रूबरू हुए पीएम मोदी

संवाद के दौरान प्रतिभागी छात्रों ने अपने-अपने इनोवेटिव आइडियाज और तकनीकी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ शेयर किया। पीएम ने भी प्रतिभागियों की हौसलाअफजाई की। प्रधानमंत्री से रूबरू होने पर स्टूडेंट भी काफी खुश दिखे। पहला स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2017 में शुरू किया गया था। इसे एचआरडी मिनिस्टिरी और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद संयुक्त रूप से आयोजित करती हैं।

जब पीएम मोदी ने स्टूडेंट से पूछा- क्या कभी पुलिस से पड़ा है पाला

इस दौरान पीएचडी कॉलेज ऑफ कोयंबटूर की टीम ‘माइंड बेंडर्स’ के एक प्रतिभागी कुंदन ने मशीन लर्निंग के इस्तेमाल वाली एक ऐसी तकनीक के बारे में पीएम मोदी को बताया जिससे पुलिसिंग में सुधार हो सकती है। प्रतिभागी ने बताया कि उनकी टीम एक ऐसा प्लेटफॉर्म बना रही है जिससे पुलिस को लोगों की समस्याओं को सही से समझने में आसानी होगी। पुलिस और लोगों के बीच का गैप पटेगा। लोगों में पुलिस का जो डर है बह खत्म होगा। इस दौरान बहुत रोचक संवाद भी हुआ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुंदन नाम के उस स्टूडेंट से पूछा कि क्या आपको पुलिस के पास कभी जाना पड़ा है तो स्टूडेंट ने जवाब दिया कि हां, एक बार मोबाइल खोने के सिलसिले में उसे पुलिस के पास जाना पड़ा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि पुलिसिंग में ह्यूमन टच बहुत जरूरी है। इसमें आर्टिफिशल इंटेलिजेंस का बहुत बड़ा रोल हो सकता है। उन्होंने स्टूडेंट को इससे जुड़े इनोवेशन को सफल बनाने के लिए शुभकामना भी दी।

हेल्थ केयर में डेटा ड्रिवेन सलूशन से हो रहा बड़ा बदलाव: पीएम मोदी

गोविंद नाम के एक प्रतिभागी ने हेल्थ केयर से जुड़े अपने नवाचार के बारे में पीएम को बताया। इस पर पीएम मोदी ने कहा कि हेल्थ केयर में डेटा ड्रिवेन सलूशन से बहुत बड़ा बदलाव हो रहा है। इस वजह से गरीब से गरीब तक, दूर-दूर के गांवों तक एक किफायती और विश्वस्तरीय सेवा पहुंचा सकते हैं। हमारे लिए यही एक सबसे बड़ा माध्यम है। आयुष्मान भारत की तरह यह प्रयास भी बहुत सफल होगा। गांव के हेल्थ ऐंड वेलनेस सेंटरों को बड़े अस्पतालों से जोड़ने का भारत में काम चल रहा है। आप जैसे इनोवेटर जिस दिशा में काम कर रहे हैं, आप इसे बहुत गति दे सकते हैं।

प्रधानमंत्री ने प्रतिभागियों को बच्‍चों और महिलाओं की सुरक्षा को लेकर किसी तरह के अलर्ट सिस्‍टम के बनाए जाने को लेकर प्रेरित किया। उन्होंने पूछा कि क्‍या यह स्‍कूल बस, ऑटो, कैब को पुलिस कंट्रोल रूम के साथ रियल टाइम कनेक्‍ट हो सकता है।

(देश-दुनिया और आपके शहर की हर खबर अब Telegram पर भी। हमसे जुड़ने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें और पाते रहें हर जरूरी अपडेट)



Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *