Ram Mandir Reactions: राम मंदिर के भूमि पूजन को नेताओं ने बताया ऐतिहासिक

[ad_1]

Edited By Nilesh Mishra | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

राम मंदिर अनंतकाल तक सबको साथ लेकर बढ़ने की प्रेरणा देगा, बोले पीएम मोदीराम मंदिर अनंतकाल तक सबको साथ लेकर बढ़ने की प्रेरणा देगा, बोले पीएम मोदी
हाइलाइट्स

  • राम मंदिर भूमि पूजन को नेताओं ने बताया ऐतिहासिक घटना, पीएम मोदी ने कहा- देश भावुक
  • शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पीएम मोदी 500 साल के सबसे बड़े नेता बन गए हैं
  • योगी आदित्यनाथ ने पीएम मोदी को धन्यवाद देते हुए कहा- अयोध्या दिखाएगी देश की महानता

नई दिल्ली

अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद अयोध्या गए और पूजन में हिस्सा लिया। पीएम मोदी के हाथों ही मंदिर की आधारशिला रखी गई। इसी पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेताओं और कई मुख्यमंत्रियों ने खुशी जाहिर की। कई नेताओं ने इस घटना को ऐतिहासिक बताया। शिवराज सिंह चौहान ने तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 500 वर्षों का सबसे बड़ा नेता घोषित किया। वहीं, योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राम मंदिर से अयोध्या ही नहीं पूरे भारत की महानता का प्रदर्शन होगा।

अमित शाह ने लिखा- देश की आत्मा में बसते हैं श्रीराम

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट करके कहा, ‘प्रभु श्रीराम जी के आदर्श और विचार भारतवर्ष की आत्मा में बसते हैं। उनका चरित्र एवं जीवन दर्शन भारतीय संस्कृति की आधारशिला है। राम मंदिर निर्माण से यह पुण्यभूमि अयोध्याजी पुनः विश्व में अपने पूर्ण वैभव के साथ जग उठेगी। धर्म और विकास के समन्वय से रोजगार के अवसर भी उत्पन्न होंगे। इस भव्य प्रभु श्री राम मंदिर का निर्माण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के मजबूत और निर्णायक नेतृत्व को दर्शाता है। इस अविस्मरणीय दिन पर सभी भारतवासियों को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं। मोदी सरकार भारतीय संस्कृति और उसके मूल्यों की रक्षा व संरक्षण के लिए हमेशा कटिबद्ध रहेगी।’

राम मंदिर भूमि पूजन Live: कैसे हुआ राम मंदिर का शिलान्यासराष्ट्रपति बोले- आधुनिक भारत का प्रतीक बनेगा राम मंदिर

राम मंदिर निर्माण के मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, ‘राम-मंदिर निर्माण के शुभारंभ पर सभी को बधाई! मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु राम के मंदिर का निर्माण न्यायप्रक्रिया के अनुरूप तथा जनसाधारण के उत्साह व सामाजिक सौहार्द के संबल से हो रहा है। मुझे विश्वास है कि मंदिर परिसर, रामराज्य के आदर्शों पर आधारित आधुनिक भारत का प्रतीक बनेगा।’

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने इस मौके पर खुशी जताते हुए कहा, ‘मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम द्वारा स्थापित मर्यादाएं भारत की मौलिक चेतना का अभिन्न अंग है, जो क्षेत्र या जाति की संकीर्ण सीमाओं से ऊपर, आज भी सभी के लिए प्रासंगिक है। राम मंदिर का पुनर्निर्माण सत्य, नैतिकता जैसे मानवीय मूल्यों और श्रीराम द्वारा स्थापित मर्यादाओं की पुनर्स्थापना है। अयोध्या के राजा के रूप में उन्होंने सदाचरण के सर्वोच्च प्रतिमान स्थापित किए जो सभी के लिए अनुकरणीय थे।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा- मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देना चाहूंगा कि आज वह 500 साल के इंतजार के बाद आए इस मौके पर मौजूद रहे। पीएम मोदी के द्वारा तैयार किए गए प्लान को हमें लागू करना है। यह मंदिर ना सिर्फ भगवान राम की महानता का प्रतीक होगा बल्कि यह भारत की महानता को भी दर्शाएगा।

शिवराज बोले- 500 वर्षों के सबसे बड़े नेता बन गए नरेंद्र मोदी

मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा, ‘देश में कई बड़े नेता हुए जिन्होंने देश का प्रभावी नेतृत्व किया। देश ने एक दशक के नेता देखे और एक शताब्दी के नेता भी देखे लेकिन हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी पांच शताब्दियों (500 साल) के सबसे बड़े नेता बने हैं। जय श्रीराम। भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने अपने कुशल नेतृत्व से न केवल 500 वर्षों का (अयोध्या राम जन्म भूमि) विवाद समाप्त किया, बल्कि भगवान श्रीराम लला के भव्य मंदिर के निर्माण का मार्ग भी प्रशस्त किया। यह मोदी जी की दृढ़ इच्छाशक्ति और श्रीराम की कृपा से ही संभव हुआ। वह (मोदी) 500 साल के भारत के सबसे बड़े नेता हैं आज।’

Video-Modi Ramlala Video: भूमि पूजन में रामलला को PM मोदी का साष्टांग दंडवत, देखें ऐतिहासिक लम्हा

  • Video-Modi Ramlala Video: भूमि पूजन में रामलला को PM मोदी का साष्टांग दंडवत, देखें ऐतिहासिक लम्हा
  • भगवान राम को पीएम मोदी का साष्टांग

    पीएम नरेंद्र मोदी जैसे ही रामलला विराजमान के पास पहुंचने उन्होंने साष्टांग किया। पीएम ने 29 साल पहले कहा था कि जब राम मंदिर बनेगी तभी वह अयोध्या आएंगे।

  • भगवान राम की पूजा करते पीएम मोदी

    पीएम मोदी ने भगवान राम की पूजा भी की। उन्होंने भगवान को फूल चढ़ाया।

  • हनुमानगढ़ी में भगवान के सामने झुके

    पीएम मोदी ने रामलला के दर्शन करने के पहले अयोध्या के चीफ भगवान हनुमान के दर्शन किए। पीएम ने भगवान हनुमान के सामने झुककर उन्हें प्रणाम किया।

  • पीएम ने हनुमान की आरती की

    पीएम नरेंद्र मोदी ने इस दौरान हनुमान जी की आरती भी की और प्रदक्षिणा भी किया। पीएम ने इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का भी पूरा पालन किया।

  • हनुमानगढ़ी में लोगों से मिलते पीएम मोदी

    भगवान हनुमान की पूजा करने के बाद पीएम मोदी ने वहां मौजूद लोगों से मुलाकात भी की। पीएम को पुजारियों ने एक मुकुट भी पहनाया।

  • भूमि पूजन करते पीएम नरेंद्र मोदी

    पीएम नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन किया। पारंपरिक पारिधान में पीएम ने शिलान्यास के कार्यक्रम में भाग लिया।

  • संघ प्रमुख मोहन भागवत के साथ पीएम मोदी

    भूमि पूजन में पीएम नरेंद्र मोदी के साथ आरएसएस चीफ मोहन भागवत भी मौजूद थे। इसके अलावा राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी मौजूद रहीं।

  • पीएम मोदी ने लगाया पारिजात का पौधा

    भूमि पूजन के पहले पीएम मोदी ने राम मंदिर परिसर में पारिजात का पौधा भी लगाया।

  • शिलान्यास के लिए अयोध्या में की गई बड़ी तैयारी

    राम मंदिर भूमि पूजन के शिलान्यास के लिए अयोध्या में बड़ी तैयारी की गई थी। चांदी की ईंट के साथ शिलान्यास।

  • पीएम मोदी ने राम मंदिर के नींव की ईंट रखी

    पीएम नरेंद्र मोदी ने शुभ घड़ी में राम मंदिर के नींव की ईंट रखी। इस दौरान उन्होंने नींव को प्रणाम किया।

  • राम मंदिर की शुभ घड़ी में नींव

    राम मंदिर के लिए आज बेहद शुभ घड़ी में नींव रखी गई। नींव में चांदी की ईंटों को रखा गया था.

  • रामलला को प्रधानमंत्री मोदी ने किया साष्टांग प्रणाम, देखें वीडियो

बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने बुधवार को कहा कि यह पल सभी को आनंदित और गौरवान्वित करने वाला है। उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अयोध्याजी में श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के भूमि पूजन एवं शिलान्यास के मंगल अवसर पर सभी पूज्य संतों के चरणों में नमन करता हूं और समस्त देशवासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं देता हूं। यह ऐतिहासिक पल सभी को आनंदित व गौरवान्वित करने वाला है।’नड्डा ने कहा कि 500 वर्षों के लंबे संघर्ष के बाद सुप्रीम कोर्ट द्वारा श्री राम जन्मभूमि पर मंदिर बनाने का मार्ग प्रशस्त किया गया और यह गर्व का विषय है कि समाज के सभी वर्गों ने इस निर्णय को सहर्ष स्वीकारा।

मायावती बोलीं- सब स्वीकार कर लें

बहुजन समाज पार्टी की चीफ मायावती ने कहा, ‘जैसाकि सर्वविदित है कि अयोध्या विभिन्न धर्मों की पवित्र नगरी व स्थली है लेकिन दुःख की बात यह है कि यह स्थल राम-मन्दिर और बाबरी-मस्जिद जमीन विवाद को लेकर काफी वर्षों तक विवादों में भी रहा है। लेकिन इसका माननीय सुप्रीम कोर्ट ने अन्त किया। साथ ही, इसकी आड़ में राजनीति कर रही पार्टियों पर भी काफी कुछ विराम लगाया। माननीय कोर्ट के फैसले के तहत ही आज यहां राम-मंदिर निर्माण की नींव रखी जा रही है, जिसका काफी कुछ श्रेय माननीय सुप्रीम कोर्ट को ही जाता है जबकि इस मामले में बीएसपी का शुरू से ही यह कहना रहा है कि इस प्रकरण को लेकर माननीय सुप्रीम कोर्ट, जो भी फैसला देगा, उसे हमारी पार्टी स्वीकार करेगी। जिसे अब सभी को भी स्वीकार कर लेना चाहिए, बीएसपी की यही सलाह है।’

राम मंदिर की नींव रख बोले मोदी, सदियों का सपना पूरा हुआ, आज पूरा भारत भावुक

हेमा मालिनी ने लिखा- सदियों के संघर्ष के बाद बन रहा राम मंदिर

अभिनेत्री और बीजेपी सांसद हेमामालिनी एक ऑडियो क्लिप साझा किया। जय श्रीराम के उद्घोष के साथ इसमें हेमा ने कहा, ‘आज का दिन समस्त भारतवासियों के लिए बहुत ही गर्व का दिन है। मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम करोड़ों भारतवासियों की आस्था के महानायक हैं। सदियों के संघर्ष के बाद अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण का शुभारम्भ होने जा रहा है और जिसका शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया गया है। इससे देश में हर्ष और उल्लास का वातावरण है। ऐसे में मैं देश-विदेश में रहने वाले समस्त रामभक्तों को बहुत-बहुत बधाई एवं बहुत-बहुत शुभकामनाएं देती हूं।’

Ram Mandir Video: मंदिर के बाद दूतावासों में भी विराजेंगे श्रीराम! देखें वीडियोRam Mandir Video: मंदिर के बाद दूतावासों में भी विराजेंगे श्रीराम! देखें वीडियो

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पता और उनके कैबिनेट सहयोगियों ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए आधारशिला रखे जाने के अवसर पर लोगों को बुधवार को शुभकामनाएं दीं। कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद एक निजी अस्पताल में उपचार करा रहे येदियुरप्पा ने ट्वीट किया, ‘सदियों बाद अयोध्या में भगवान राम का अभिषेक होगा।’ उन्होंने कहा कि कई साधुओं, संतों और श्रद्धालुओं ने मंदिर निर्माण का सपना साकार करने के लिए कुर्बानी दी और यह सपना जल्द ही पूरा होगा।

जग्गी वासुदेव बोले- तकलीफ दे रहा घाव खत्म हुआ

धर्म गुरु और ईशा फाउंडेशन के संस्थापक सद्गुरु जग्गी वासुदेव ने कहा, ‘राम मंदिर के शांतिपूर्ण समाधान ने लंबे समय से तकलीफ दे रहे घाव को खत्म कर दिया है। बहुत सारे दिल और दिमाग अब शांत हो गए हैं। पूरा देश इसका स्वागत करे।’

कुछ यूं बनेगा अयोध्या का राम मंदिर

कुछ यूं बनेगा अयोध्या का राम मंदिर

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *