NEET-JEE Exam Updates: एनटीए बोला, परीक्षा की पूरी तैयारी, कैंडिडेट्स को अभी भी चिंता

[ad_1]

हाइलाइट्स:

  • नीट और जेईई परीक्षा को लेकर जारी घमासान अभी थमा नहीं है
  • कैडिडेट्स आज परीक्षा टलवाने के लिए देशव्यापी धरना करने वाले हैं
  • इस बीच, कांग्रेस समेत कई विपक्षी दल सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने की तैयारी कर रहे हैं

नई दिल्ली
राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) और संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE) परीक्षा पर मचा घमासान थम नहीं रहा है। कांग्रेस समेत जहां कई विपक्षी दल सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court on NEET Exam) का दरवाजा खटखटाने की तैयारी कर रहे हैं वहीं, परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्र एग्जाम टलवाने के लिए आज से देशव्यापी धरने पर बैठने वाले हैं। इस बीच, नैशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने कहा है कि वह पूरी सुरक्षा और सावधानी तथा एहतियात के साथ परीक्षा करवाने के लिए पूरी तरह तैयार है लेकिन कैंडिडेट्स कोरोना काल में परीक्षा को लेकर काफी चिंतित हैं। बता दें JEE की परीक्षा 1 से 6 सितंबर के बीच होगी और NEET की परीक्षा 13 सितंबर को कराई जाएगी।

कोरोना काल में परीक्षा, कैंडिडेट्स को रही चिंता
कोरोना काल में NEET-JEE (Main) परीक्षा का कैंडिडेट्स विरोध भी कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर तो दो दिन तक इस परीक्षा को स्थगित करने की मांग भी ट्रेंड करती रही। कांग्रेस समेत कई विपक्षी दल परीक्षा को रोकने की मांग कर रहे हैं।

कोरोना महामारी और बाढ़ के कहर के बीच एग्जाम देने की चुनौती, देखें वीडियो..

तेलंगाना और ओडिशा में है संकट
बता दें कि तेलंगाना और ओडिशा जैसे राज्यों में कैंडिडेट्स को दिक्कत हो सकती है। तेलंगाना में पिछले कुछ समय से लगातार बारिश हो रही है और कई जिलों का संपर्क टूट गया है। ऐसा ही असम और बिहार में भी है। इन दोनों राज्यों में बाढ़ के कारण स्थिति बदतर है। ओडिशा में केवल 7 शहरों में ही परीक्षा केंद्र है। ऐसे में वहां बड़ी संख्या में कैंडिडेट्स परीक्षा केंद्र पर पहुंचेंगे।

15.3 लाख एडमिट कार्ड डाउनलोड किए गए
JEE (Main) के बाद NTA ने बुधवार को NEET परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड (Admit Card For NEET Exam) जारी किए। कल रात 8 बजे तक कुल 15.3 लाख एडमिट कार्ड डाउनलोड किए जा चुके हैं, जिसमें 7.9 लाख कार्ड नीट परीक्षा के हैं। बता दें कि 9.5 लाख छात्र JEE (Main) परीक्षा में शामिल होंगे जबकि NEET के लिए करीब 15 लाख छात्र-छात्राएं परीक्षा देंगे।

सुरक्षा का ख्याल, सबकुछ कंटैक्ट फ्री
NTA के महानिदेशक विनीत जोशी ने कहा कि एक समय में रिजस्ट्रेशन डेस्क पर अधिकतम 15 अभ्यर्थी होंगे। इसके अलावा परीक्षा केंद्र के अंदर जाने से बाहर आने की पूरी प्रक्रिया कांटैक्ट लेस होगी। उन्होंने कहा कि परीक्षा केंद्र में कागजात की जांच भी कंटैक्ट फ्री होगा। बता दें कि

वाराणसी के रहने वाले श्रेयांस जायसवा ने कहा कि वह इदारतगंज में रहते हैं और उनका सेंटर वाराणसी है, जो 130 किलोमीटर दूर है। मैं जहां रहता हूं वह कंटेनमेंट जोन है। आखिर मैं परीक्षा केंद्र पर कैसे पहुंच पाऊंगा। क्या यह सुरक्षित होगा?

नीट परीक्षा के छात्र


एक केंद्र पर अधिकतम 150 कैंडिडेट्स, सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल

जोशी ने कहा, ‘हमने परीक्षा से पहले और बाद में भीड़ प्रबंधन का पूरा इंतजाम किया है। कैंडिडेट्स के लिए हमने परीक्षा केंद्र पर पहुंचने का अलग-अलग समय निर्धारित किया है। एक केंद्र पर 150 कैंडिडेट्स होंगे। हमने उन्हें समूहों में बांट दिया और उन्हें परीक्षा केंद्र पर 30-40 मिनट के अंतराल पर रिपोर्टिंग करनी है। एंट्री गेट पर एक क्यू मैनेजर होंगे और वे वहां सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखेंगे। एंट्री गेट के करीब वाहन पार्क नहीं करने दिया जाएगा। हमने इसके लिए लोकल अधिकारियों को भी लिखा है ताकि स्थानीय पुलिस हमारी मदद कर सके।’ परीक्षा खत्म होने के बाद कैंडिडेट्स को अलग-अलग समूहों में बाहर जाने की इजाजत होगी ताकि गेट पर भीड़ से बचा जा सके।

NEET-JEE परीक्षा रोकने के लिए क्या करने वाले हैं विपक्षी दल?

कोरोना फ्री परीक्षा के लिए हर चीज का ख्याल
जोशी ने कहा कि कोविड-19 की स्थिति का ध्यान रखते हुए सरकार के गाइडलाइंस का पूरा ध्यान रखा जाएगा। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए कमरों की संख्या बढ़ाई गई है। NEET-UG परीक्षा के लिए एक कमरे में 12 कैंडिडेट्स होंगे। JEE (Main) की परीक्षा चूंकि कंप्यूटर से होती है इसलिए छात्रों की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाएगा और पहली शिफ्ट में प्रयोग किए जाने वाले कंप्यूटर को दूसरी शिफ्ट में यूज नहीं किया जाएगा। इसके अलावा सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन करने के लिए निरीक्षकों की संख्या भी बढ़ा दी गई है।

चेन्नै से बाहर रहने वाले पैरंट्स ने तमिलनाडु सरकार से होटल बुकिंग शुरू करवाने का आग्रह किया है। पैरंट्स ने सरकार से ट्रांसपोर्ट प्लान भी जारी करने को कहा है।

परीक्षा पर तमिलनाडु में पैरंट्स की मांग

परीक्षा केंद्रों की संख्या भी बढ़ाई गई
NEET परीक्षा देश के 155 शहरों के 3,846 केंद्रों पर होगी और JEE (Main) परीक्षा देश के 234 शहरों के 615 केंद्रों पर 12 सत्रों में होगी।

फाइल फोटो

फाइल फोटो

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *