Kanpur Shootout: शहीद CO देवेंद्र मिश्रा के Audio पर IPS अनंत देव ने उठाए सवाल, जारी किया VIDEO

[ad_1]

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कानपुर (Kanpur) के बिकरु कांड (Bikru Case) में शहीद सीओ देवेंद्र मिश्रा (Martyr CO Devendra Mishra) के एक ऑडियो से हड़कंप मचा हुआ है. इस ऑडियो में बिकरु में रेड पर जाने से पहले सीओ देवेंद्र मिश्रा और एसपी ग्रामीण के बीच फोन पर बातचीत है. इसमें देवेंद्र मिश्रा चौबेपुर एसओ और पूर्व एसएसपी अनंत देव (Former SSP Kanpur Anant Dev) पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं. उधर अब मामले में कानपुर के तत्कालीन एसएसपी अनंत देव ने वीडियो जारी कर शहीद सीओ के ऑडियो पर सवाल उठाए हैं.

आईपीएस अनंत देव ने मीडिया से ऑडियो की विश्वसनीयता पर विचार करने की अपील की है. उन्होंने कहा कि साफ पता चल रहा है कि सारे ऑडियो ख़ुद सीओ साहब ने रिकॉर्ड किए थे. सीओ साहब अपने सीनियर्स और मातहतों के फोन रिकॉर्ड करते थे. रिकॉर्ड करते समय सीओ साहब ख़ुद सतर्क रहते थे. जब रिकॉर्ड करने वाला ही आरोप लगा रहा हो तो ऐसे ऑडियो की विश्वसनीयता पर संदेह बना रहेगा. उन्होंने कहा कि कोई स्वतंत्र एजेंसी कॉल इंटरसेप्ट करती तो उस पर विश्वास ज़्यादा होता.

दरअसल ऑडियो में सीओ ने एसपी ग्रामीण को फोन पर कहा था कि एसओ विनय तिवारी विकास दुबे के पैर छूता है. सीओ ने एसपी ग्रामीण से यह भी अंदेशा जताया था कि एसओ ने विकास दुबे को दबिश की जानकारी दे दी होगी. एसओ ने विकास दुबे को अब तक भगा दिया होगा.ये भी पढ़ें: बड़ा खुलासा, दबिश से ठीक पहले सीओ और एसपी ग्रामीण की बातचीत की ऑडियो क्लिप आई सामने

सीओ ने एसपी ग्रामीण से कहा था कि पुराने एसएसपी अनंत देव ने एसओ विनय तिवारी पर हाथ रखा था. अनंत देव की वजह से ही विनय तिवारी बोलना सीख गया था. उन्होंने एसपी ग्रामीण को यह भी जानकारी दी थी कि विनय तिवारी डेढ़ लाख रुपए महीने लेकर जुआ खेलाता था. शिकायत पर भी विनय तिवारी पर कार्रवाई नहीं होती थी. यही नहीं एसओ ने जुआ खेलाने वाले से 5 लाख रुपये अनंत देव तिवारी को दिए थे.

CO देवेंद्र मिश्रा और SPRA बीके श्रीवास्तव के बीच की बातचीत के प्रमुख अंश…

>>चौबेपुर SO विनय तिवारी ने दबिश से पहले CO को कॉल करके साथ चलने के लिए बनाया था दबाव.

>>CO ने SPRA बीके श्रीवास्तव को दी थी SO की इस बात की जानकारी.

>>CO ने SPRA को बताया था कि SO विनय तिवारी, विकास दुबे के न सिर्फ पैर छूता है बल्कि दबिश की सूचना अबतक विकास दुबे को विनय तिवारी ने दे दी होगी. पहले वाले एसएसपी अनंतदेव तिवारी का लाडला SO था विनय तिवारी.

>>1.5 लाख रुपये लेकर अपने थाना क्षेत्र में जुआ कराने का आरोप भी CO ने SPRA से बातचीत में SO पर लगाया था.

>>सीओ ने कहा था कि मैंने SO से जुआ बन्द कराने को बोला था, अलग थाने का फोर्स लेकर छापा भी मारा था, जुआ पकड़ा भी, लेकिन SSP को 5 लाख रुपये देकर मामला सेट करा लिया.

>>CO का आरोप – इसके बाद विनय तिवारी की सभी जांच खत्म हो गई.

>>CO देवेंद्र मिश्र – विकास दुबे को अब तक SO ने कॉल करके बता दिया होगा कि CO दबिश देने आ रहा है, SO ने अबतक कह दिया होगा कि तुमसब लोग भाग जाओ अपने घरों से.

>>SO और CO का भी एक ऑडियो आया सामने, जिसमें विनय तिवारी को जुआ चलवाने को लेकर डांट पड़ रही है.



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *