India China Meeting: भारत-चीन के बीच लद्दाख पर 5वीं बार बात आज, 11 बजे मिलेंगे कमांडर


Edited By Vishnu Rawal | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

नई दिल्ली

लद्दाख में क्या भारत और चीन के बीच आज तनाव कम हो सकता है? इसका जवाब सुबह 11 बजे होनेवाली सैन्य स्तर की बैठक के बाद मिल सकता है। सैन्य सूत्रों ने बताया है कि चीन के साथ आज लद्दाख पर 5वें दौर की बातचीत होगी। पहले खबर थी कि इस मीटिंग को रद्द कर दिया गया है। अब जानकारी मिली है कि चीन और भारत के सैन्य अफसरों के बीच सुबह 11 बजे मीटिंग होगी। यह मीटिंग चीनी साइड मॉल्डो में होगी। मीटिंग में कमांडर स्तर के अधिकारी होंगे।

भारत की तरफ से मीटिंग में फिंगर एरिया की बात उठाई जाएगी और चीनी सैनिकों को वहां से पीछे जाने को कहा जाएगा। बताया गया कि ईस्टर्न लद्दाख में कुछ सैनिक पीछे गए हैं लेकिन अभी पूरी तरह से डिसएंगेजमेंट नहीं हुआ है। दोनों देशों के बीच 5वें दौर की यह बातचीत 30 जुलाई के लिए प्रस्तावित थी लेकिन चीन के इरादों को भांपते हुए फिलहाल बातचीत को टालना पड़ा था।

पढ़ें- चीन की हरकतों पर बोले विदेश मंत्री, मुकाबला करना ही होगा

‘चीन के पीछे न हटने की दो वजह’

अधिकारियों के मुताबिक, पैंगोंग सो और देपसांग में चीनी सैनिकों के पीछे न हटने की दो वजहें हो सकती हैं। पहला, दोनों देशों के बीच 14 जुलाई को सैन्य कमांडर स्तर की चौथे दौर की बातचीत में डिसइंगेजमेंट के जिस प्रपोजल पर सहमति बनी थी, उसे लागू करना चाहिए या नहीं, इसे लेकर चीन अभी भी दुविधा की स्थिति में है। दूसरा, चीन इस विवाद को खींचकर सर्दियों तक ले जाना चाहता है।

चीन के साथ 4 बार सैन्य स्तर की हुई बातचीत

क्षेत्र में शांति और स्थिरता बहाल करने के लक्ष्य से पूर्वी लद्दाख में संघर्ष वाली जगह से सेनाओं की वापसी को लेकर अभी तक दोनों देशों की सेनाओं के शीर्ष सैन्य कमांडरों के बीच चार चरण की वार्ता हो चुकी है। गौरतलब है कि 5 जुलाई को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने टेलीफोन पर करीब दो घंटे तक पूर्वी लद्दाख में दोनों देशों के बीच तनाव को कम करने के लिये चर्चा की थी। दोनों पक्षों ने इस वार्ता के बाद 6 जुलाई के बाद पीछे हटने की प्रक्रिया शुरू की थी।

(देश-दुनिया और आपके शहर की हर खबर अब Telegram पर भी। हमसे जुड़ने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें और पाते रहें हर जरूरी अपडेट)



Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *