Greater Noida : रिटायर्ड दरोगा ने नशे में बेटे की छाती और पांव पर मारी गोलियां, फिर कर ली खुदकुशी

[ad_1]

Greater Noida : रिटायर्ड दरोगा ने नशे में बेटे की छाती और पांव पर मारी गोलियां, फिर कर ली खुदकुशी

वारदात की सूचना मिलने के बाद रिटार्यड दरोगा के घर जांच करने पहुंची पुलिस टीम.

रिटायर्ड दरोगा ने लाइसेंसी रिवाल्वर से बेटे की छाती पांव में गोली मारी. इसके बाद उन्होंने खुद को भी गोली मार ली. दरोगा की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि बेटे को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

ग्रेटर नोएडा. ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) में रिटायर्ड दरोगा (retired police officer) ने नशे (Drunk) की हालत में पहले अपने बेटे को गोली मारी (shot bullet) और फिर खुद को. रिटायर्ड दरोगा की मौके पर ही मौत (Death) हो गई, जबकि बेटे की हालत चिंताजनक है. रिटायर्ड दरोगा की पहचान पचन सिंह के रूप में हुई है.

बेटे की छाती में लगी है एक गोली
यह वारदात ग्रेटर नोएडा के थाना दादरी की है. यहां एस्कोर्ट कॉलोनी में रहने वाले रिटायर्ड दरोगा पचन सिंह की अपने बेटे से कहा-सुनी हो गई. पचन सिंह नशे में थे. इस कहा-सुनी के बाद उन्होंने लाइसेंसी रिवाल्वर से बेटे पर हमला कर दिया. बेटे को दो गोलियां लगी हैं. एक गोली बेटे की छाती में लगी है जबकि दूसरी गोली उसके पांव में. इसके बाद उन्होंने खुद को भी गोली मार ली. रिटायर्ड दरोगा पचन सिंह की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि बेटे की हालत गंभीर है. उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

पोस्टमॉर्टम के लिए भेजी दरोगा की लाशसूचना पाकर मौके पर पंहुची पुलिस ने पचन सिंह का शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और जांच में जुट गई है. पुलिस ने बताया कि रिटायर्ड दरोगा पचन सुबह नशे की हालत में थे. तभी उनकी बेटे से किसी बात पर बकझक हो गई. बात इतनी आगे बढ़ गई कि दरोगा ने अपनी और अपनों की जान के दुश्मन बन बैठे. नशे में धुत दरोगा ने लाइसेंसी रिवाल्वर निकाली और दो गोलियां अपने सगे बेटे पर दाग दीं. एक गोली बेटे के सीने में लगी और दूसरी गोली उसके पांव में. इस हमले के बाद पचन सिंह यहीं नहीं रुके. उन्होंने खुद को भी गोली मार ली. वो जिसकी जान लेना चाह रहे थे, वह तो बच गया और गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती है, जबकि दरोगा की मौके पर ही मौत हो गई.

मामले की विस्तृत जांच के लिए टीम गठित
एडीसीपी विशाल पांडेय ने बताया की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दरोगा पचन सिंह के शव को पोर्टमार्टम के लिए भेज दिया है. वहीं उनके बेटे को जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है, जहां उसकी हालत गंभीर है. मामले की विस्तृत जांच के लिए टीम बना दी गई है.



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *