DRDO ने रक्षा मंत्री को देश में बनने वाले 108 सिस्टम एंड सबसिस्टम की लिस्ट सौंपी

[ad_1]

नई दिल्ली
डीआरडीओ (DRDO) के एक प्रतिनिधिमंडल ने सोमवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात कर उन 108 सिस्टम एंड सबसिस्टम की लिस्ट सौंपी है, जिसकी डिजाइनिंग और डिवेलपमेंट का काम भारत के उद्योग कर सकते हैं। डीआरडीओ इस विकास प्रक्रिया में उद्योगों को अपना समर्थन प्रदान करेगा। यह पहल भारतीय रक्षा उद्योग के लिए एक आत्‍मनिर्भर भारत के निर्माण की दिशा में कई तकनीकों को विकसित करने का मार्ग प्रशस्त करेगी। यह जानकारी रक्षा मंत्रालय ने दी।

बता दें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पिछले दिनों’आत्मनिर्भर सप्ताह’ को लॉन्च किया था। इस मौके पर रक्षा मंत्री के साथ चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत भी मौजूद थे। राजनाथ सिंह ने ‘आत्मनिर्भर सप्ताह’ के हिस्से के रूप में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ‘मेक इन इंडिया के लिए अवसर’ नामक एक पोर्टल लॉन्च किया था।

सूची में शामिल है ये हथियार
108 वस्तुओं की सूची में मिनी और माइक्रो यूएवी, आरओवी, माउंटेन फुटब्रिज, फ्लोटिंग ब्रिज (दोनों धातु), माइंस बिछाने और मार्किंग उपकरण आदि शामिल हैं। इसके अलावा बख्तरबंद इंजीनियरिंग टोही वाहन (AERV), आतंकवाद रोधी वाहन, बहुउद्देशीय छलावरण जाल, बुलेटप्रूफ वाहन, मिसाइल कनस्तरों, समुद्री रॉकेट लांचर, उपग्रह नेविगेशन रिसीवर, टीआर मॉड्यूल, सहित अन्य भी सूची में शामिल हैं।

सिंह ने किया था ये ऐलान
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि आयात प्रतिबंधों के लिए चिह्नित की गई 101 रक्षा वस्तुओं की सूची में तोप, असॉल्ट राइफल, परिवहन विमान शामिल हैं।उन्होंने बताया था कि 101 रक्षा वस्तुओं के आयात पर रोक लगाने की योजना 2020 से 2024 के बीच चरणबद्ध तरीके से क्रियान्वित होगी। सरकार ने 2020-21 के लिए पूंजीगत खरीद बजट को घरेलू और विदेशी खरीद के बीच दो भागों में आवंटित किया है।

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *