CWC Meeting Updates: किस रास्ते जाएगी कांग्रेस? सोनिया के बाद कांग्रेस पास क्या-क्या विकल्प

[ad_1]

हाइलाइट्स:

  • कांग्रेस वर्किंग कमिटी की आज होने वाली है अहम बैठक
  • बैठक में पार्टी के पूर्णकालिक अध्यक्ष चुने जाने पर हो सकती है चर्चा
  • अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अपने पद से इस्तीफा देने का दे चुकी हैं संकेत
  • कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं ने सोनिया को चिट्ठी लिखकर संगठन में बड़े बदलाव की मांग की है

नई दिल्ली
पिछले साल लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद से कांग्रेस अभी तक उबर नहीं पाई है। हार की जिम्मेदारी लेते हुए राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था और उनकी मां सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को पार्टी के अंतरिम चीफ की कमान संभालनी पड़ी थी। पर दो दिन पहले पार्टी के 20 से ज्यादा वरिष्ठ नेताओं की चिट्ठी (A Letter to Sonia by Prominent Congress Leaders) ने देश की इस सबसे पुरानी पार्टी में भूचाल ला दिया है। इन नेताओं ने पार्टी के लिए पूर्णकालिक अध्यक्ष समेत संगठन में बड़े बदलाव की वकालत की है। इस बीच, सोनिया ने भी पार्टी को बता दिया है कि अब वह अंतरिम अध्यक्ष का पद नहीं संभालेंगी। तो सवाल उठता है कि सोनिया के इनकार के बाद कांग्रेस के पास क्या विकल्प बच रहे हैं? क्या राहुल फिर संभालेंगे कमान? पार्टी का एक धड़ा प्रियंका गांधी वाड्रा की तरफ भी उम्मीद भरी नजरों से देख रहा है।

सोनिया के बाद पार्टी के पास क्या विकल्प?

कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की चिट्ठी के बाद कहा जा रहा है कि सोनिया ने पार्टी को साफ-साफ कह दिया है कि अब वह अंतरिम अध्यक्ष का पद नहीं संभालेंगी। सोनिया ने संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल और कांग्रेस वर्किंग कमिटी (CWC) के सदस्यों को पत्र लिखकर अपनी मंशा बता दी है। वेणुगोपाल सोनिया के इस पत्र को बैठक में पढ़ भी सकते हैं। बताया जा रहा है कि सोनिया पिछले कुछ समय से लगातार पद छोड़ने का संकेत देती रही हैं। 10 अगस्त को बतौर अंतरिम अध्यक्ष सोनिया का एक साल का कार्यकाल पूरा हुआ है। हालांकि, कहा जा रहा है कि CWC बैठक में सोनिया से पद पर बने रहने के लिए कहा जा सकता है या फिर राहुल को फिर से अध्यक्ष बनाने की मांग हो सकती है। सूत्रों के अनुसार, दोनों इस बात को शायद ही राजी हों।

पढ़ें,अध्यक्ष पद छोड़कर भी ‘अध्यक्ष’, राहुल के फैसलों से कांग्रेस में बढ़ता गया कन्फ्यूजन

राहुल को मिलेगी कमान?

क्या फिर राहुल को मिलेगी कमान?
पार्टी के कई नेता फिर से राहुल को पार्टी की कमान सौंपने की मांग कर रहे हैं। पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह से लेकर छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने यह मांग की है। पिछले साल लोकसभा चुनाव में पार्टी की करारी हार के बाद अपने पद से इस्तीफा देने वाले राहुल ने पार्टी नेताओं की मांग पर कोई बयान नहीं दिया है। सूत्रों का कहना है कि राहुल तत्काल तो पार्टी अध्यक्ष का पद नहीं संभालेंगे। उन्होंने कहा कि इस बात की संभावना है कि सोनिया कुछ समय के लिए अंतरिम अध्यक्ष बनी रहें और इस दौरान पूर्णकालिक अध्यक्ष की खोज की जाए। सोनिया की स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं भी परेशान कर रही हैं। ऐसे में पार्टी उनपर ज्यादा जोर नहीं दे सकती है।

पढ़ें,कांग्रेस में परिवर्तन: CWC की बैठक आज, ‘अंतरिम अध्यक्ष’ का दांव खेलने की तैयारी

प्रियंका को मिलेगी बड़ी जिम्मेदारी?
पार्टी के अंदरूनी सूत्रों का कहना है कि हो सकता है कि सोनिया की मदद के लिए 4 उपाध्यक्षों की नियुक्ति की जाए या फिर सोनिया ही राहुल के अध्यक्ष पद के लिए हामी भरने तक किसी को अंतरिम अध्यक्ष नियुक्त कर दें। हालांकि इस बात की संभावना बेहद कम नजर आ रही है। पार्टी के कई नेता प्रियंका गांधी वाड्रा की भी वकालत कर रहे हैं। हालांकि खुद प्रियंका ने इस बारे में कोई पत्ते नहीं खोले है।

यह भी पढ़ें, सिंधिया पर भड़के दिग्विजय, बोले- उनके जाने से कांग्रेस फिर जिंदा हुई

गांधी-नेहरू परिवार से बाहर का होगा अध्यक्ष?
पार्टी के इस बात को लेकर चर्चा तेज है कि CWC का असली अजेंडा नया अध्यक्ष ही होने जा रहा है। यह भी कहा जा रहा है कि अगर राहुल अध्यक्ष बनने को तैयार नहीं होते हैं तो किसी और को जिम्मेदारी देने पर मंथन हो सकता है। कांग्रेस के एक नेता के मुताबिक, ऐसी दशा में नया नाम तय करने का जिम्मा गांधी परिवार और CWC पर होगा। बता दें कि पिछले राहुल ने इस्तीफा देने के बाद कहा था कि गांधी-नेहरू परिवार के बाहर किसी को यह जिम्मेदारी सौंपी जानी चाहिए। प्रियंका ने तब राहुल के विचारों से सहमति जताई थी। पर हाल में इस मुद्दे पर प्रियंका के बयान को दोबारा हवा दिए जाने को कांग्रेस ने एक साजिश बता दिया था।

2019 से 2020 तक जानें क्या-क्या हुआ

-25 मई 2019 को राहुल गांधी ने कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया।

-10 अगस्त 2019 को कांग्रेस ने सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष चुना।

-17 अगस्त 2020 को कांग्रेस के निलंबित सदस्य संजय झा ने एक ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस के 100 नेताओं ने सोनिया गांधी को नेतृत्व के मुद्दे पर चिट्ठी लिखी है। हालांकि कांग्रेस ने आधिकारिक तौर पर इस बात से इनकार किया।

फिर फूटा लेटर ‘बम’

– दो दिन पहले कांग्रेस के करीब 300 अधिकारी, पूर्व सीएम, पूर्व मंत्री और सांसदों के हस्ताक्षर वाला पत्र सोनिया को भेजा गया। पत्र में राज्यों में कांग्रेस की खराब होती स्थिति और संगठन में बड़े बदलाव की मांग की गई थी।

-पत्र पर गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा, कपिल सिब्बल, वीरप्पा मोइली, भूपेंद्र सिंह हुड्डा, पृथ्वीराज चव्हाण, शशि थरूर, मुकल वासनिक, मनीष तिवारी, मिलिंद देवड़ा, जतिन प्रसाद, राज बब्बर और संदीप दीक्षित जैसे बड़े नेताओं ने हस्ताक्षर किए थे।

CWC में ये हो सकती है चर्चा
-पूर्णकालिक अध्यक्ष की नियुक्ति हो सकती है।
-CWC समेत सभी स्तरों पर पारदर्शी चुनाव पर सहमति हो सकती है।
-पार्टी के रिवाइवल के लिए चर्चा की जा सकती है।
-विपक्ष को एकजुट करने और कांग्रेस छोड़ चुके लोगों को वापस लाने पर चर्चा हो सकती है।
-राहुल को अध्यक्ष बनाने की मांग हो सकती है।

कांग्रेस के पास क्या हैं विकल्प

कांग्रेस के पास क्या हैं विकल्प

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *