coronavirus recovery rate india: तेजी से ठीक हो रहे हैं कोरोना पेशंट्स, रिकवरी दर हुई 67.19 प्रतिशत

[ad_1]

NBT
हाइलाइट्स

  • कोरोना वायरस की मृत्यु दर गिरकर 2.09 प्रतिशत हुई
  • अबतक 12,82,215 लोग संक्रमण से ठीक हो चुके हैं
  • देश में अब भी कोरोना वायरस के 5,86,244 पेशंट्स है

नई दिल्ली

देश में कोरोना वायरस से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने अनुसार, कोविड-19 से एक दिन में कुल 51,706 लोग ठीक हो गए। इससे बुधवार को संक्रमण से ठीक होने की दर 67.19 प्रतिशत और मृत्यु दर गिरकर 2.09 प्रतिशत हो गई है। मंत्रालय ने बताया कि देश में 12,82,215 लोग संक्रमण से ठीक हो चुके हैं और संक्रमण के मौजूदा मामले से दोगुना लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

30.72 प्रतिशत मरीज अब भी पॉजिटिव

वर्तमान में 5,86,244 संक्रमित मरीज हैं। यह कोविड-19 के कुल मामलों का 30.72 प्रतिशत है। मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि ज्यादा जांच, संक्रमित के संपर्क का तेजी से पता लगाने और उपचार को लेकर केंद्र की नीति की बदौलत स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ी है। मंत्रालय ने कहा कि केंद्र और राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों की सरकारों की रणनीति को समन्वित रूप से लागू करने से कोविड-19 के मामलों में मृत्यु दर कम हुई है।

ये भी पढ़ें- देश में कहां, कितने कोरोना वायरस के मामले…

कोविड-19 से मरने वालों की संख्या में गिरावट

मंत्रालय ने कहा, कोरोना वायरस से मरने वाले लोगों की संख्या में लगातार कमी आ रही है और अब यह 2.09 प्रतिशत है। मंत्रालय ने कहा कि सरकारी और निजी क्षेत्र के एकजुट प्रयासों के कारण जांच बढ़ाई गई और अस्पतालों के ढांचे को बेहतर बनाया गया। इससे पिछले 14 दिनों में ठीक होने की दर को 63 प्रतिशत से 67 प्रतिशत करने में मदद मिली।

तेजी से चल रही है जांच की प्रक्रिया

मंत्रालय ने कहा कि मंगलवार को लगातार दूसरे दिन कोविड-19 के 6 लाख से ज्यादा नमूनों की जांच की गई है। देश में अब तक 2,14,84,402 जांच की जा चुकी है । प्रति दस लाख आबादी पर 15,568 जांच की जा रही है। देश में प्रयोगशाला की संख्या भी बढ़ाई गई है। वर्तमान में 920 सरकारी लैब और 446 प्राइवेट लैब हैं। देश में कोविड-19 के 52,509 नए मामले आने से संक्रमितों की संख्या 19.08 लाख हो गई है।

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *