Bangalore Riots: मंत्री का ऐलान, ‘योगी मॉडल’ पर होगी दंगाइयों से नुकसान की भरपाई

[ad_1]

कर्नाटक सरकार बेंगलुरु के दंगाइयों के खिलाफ ऐक्शन मोड में आ गई है। दंगाइयों से उन्हीं की प्रॉपर्टी बेचकर नुकसान की भरपाई की जाएगी, ठीक वैसे ही जैसे सीएए हिंसा के बवालियों से उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने वसूली की थी। कर्नाटक के पर्यटन मंत्री सीटी रवि ने कहा कि दंगे सुनियोजित थे। हम यूपी की तरह दंगा करने वालों से नुकसान की वसूली करेंगे।

Edited By Shivam Bhatt | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

NBT
हाइलाइट्स

  • बेंगलुरु हिंसा के आरोपियों के खिलाफ ऐक्शन मोड में कर्नाटक सरकार
  • मंत्री सीटी रवि बोले, UP की तरह दंगाइयों से होगी नुकसान की भरपाई
  • योगी सरकार ने सीएए हिंसा के आरोपियों से वसूली के लगवाए थे पोस्टर
  • हाई कोर्ट, सुप्रीम कोर्ट से झटका लगा तो अध्यादेश लाई थी योगी सरकार

बेंगलुरु

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में मंगलवार रात हुए दंगों में 3 लोगों की मौत हो गई और सैकड़ों लोग जख्मी हुए हैं। दंगे में दर्जनों गाड़ियों को आग लगाई गई और करोड़ों की संपत्ति का नुकसान हुआ है। हालांकि अब कर्नाटक सरकार दंगाइयों के खिलाफ ऐक्शन मोड में आ गई है। दंगाइयों से उन्हीं की प्रॉपर्टी बेचकर नुकसान की भरपाई की जाएगी, ठीक वैसे ही जैसे सीएए हिंसा के बवालियों से उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने वसूली की थी। गृह मंत्री बीएस बोम्मई ने बुधवार शाम इसकी घोषणा की है।

गृह मंत्री बोम्मई ने कहा कि दंगे में हुए नुकसान की भरपाई दंगाइयों की संपत्ति बेचकर ही की जाएगी। मंगलवार रात महज एक फेसबुक पोस्ट पर शुरू हुआ बवाल इस हद तक पहुंच गया कि इस हिंसा में 3 लोगों की मौत हो गई और सैकड़ों लोग जख्मी हुए हैं। 110 लोगों को आगजनी, पथराव और पुलिस पर हमले के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

बेंगलुरु में तोड़फोड़, आगजनी

  • बेंगलुरु में तोड़फोड़, आगजनी

    बेंगलुरु में फेसबुक पोस्ट को लेकर जमकर उपद्रव और तोड़फोड़ हुई। पुलिस स्टेशन को भी नहीं बख्शा गया। हालात को काबू करने के लिए पुलिस को फायरिंग भी करनी पड़ी।

  • ACP सहित सैकड़ों पुलिसकर्मी जख्मी

    इस हिंसा में अडिशनल पुलिस कमिश्नर सहित 100 से ज्यादा पुलिसवाले भी जख्मी हो गए। धारा 144 लागू कर दिया गया है। 3 लोगों की मौत भी हो चुकी है।

  • कई घरों में की गई आगजनी

    बेंगलुरु के पुलकेशीनगर इलाके में गुस्साई भीड़ ने की हिंसा। घरों और वाहनों में आगजनी की गई।

  • वीडियो: फेसबुक पोस्ट पर सुलग उठा बेंगलुरु, आगजनी और तोड़फोड़
  • MLA के भतीजे की फेसबुक पोस्ट के बाद बवाल

    यह पूरा हंगामा कथित तौर पर कांग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति के भतीजे के कथित भड़काऊ सोशल मीडिया पोस्ट के बाद शुरू हुआ। इसके बाद पूरे इलाके में हिंसा शुरू हो गई।

  • बेंगलुरु के दो पुलिस थानों में भी तोड़फोड़-आगजनी

    हजारों की संख्या में उपद्रवियों ने केजी हल्ली और डीजे हल्ली पुलिस स्टेशनों में तोड़फोड़ और आगजनी की।

  • बेसमेंट में सैकड़ों गाड़ियों को किया आग के हवाले

    पुलिस वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया गया और आग लगा दी गई। भीड़ ने बेसमेंट में घुसकर 200-250 वाहनों को आग लगा दी गई।

  • हजारों की संख्या में भीड़ ने की आगजनी

    बेंगलुरु में उग्र भीड़ ने रात की हिंसा में बड़े पैमाने पर गाड़‍ियों में भी आगजनी की। भीड़ को कंट्रोल करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले दागने पड़े।

  • जो सामने दिखा, उपद्रवियों ने सब तोड़ा

    बड़ी तादाद में आए उपद्रवियों के सामने जो कुछ भी आया, सब तोड़ते चले गए। कुछ जगहों पर लूटपाट की घटनाएं भी हुईं।

  • ATM मशीन को तोड़ा, लूटने की कोशिश

    हिंसाग्रस्त इलाके की एक एटीएम मशीन का हाल। उपद्रवियों ने मशीन को तोड़-फोड़ डाला। पैसे भी निकालने की कोशिश की गई।

  • पूरे शहर में धारा-144, दो थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू

    हिंसा के बाद बेंगलुरु में धारा 144 लगाई गई है। डीजे हल्ली और केजी हल्ली पुलिस स्टेशन के आस-पास कर्फ्यू भी लगाया गया है।

  • RAF, CRPF और CISF की कुछ कंपनियां पहुंचीं

    बेंगलुरु सिटी पुलिस कमिश्नर कमल पंत ने बताया है कि RAF, CRPF और CISF की कुछ कंपनियां भी मदद के लिए आई हैं।

बेंगलुरु हिंसा का लाइव अपेडट, पढ़ें सबकुछ

‘यूपी की तरह दंगा करने वालों से होगी नुकसान की भरपाई’

कर्नाटक के पर्यटन मंत्री सीटी रवि ने कहा कि दंगे सुनियोजित थे। संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के लिए पेट्रोल बम और पत्थरों का इस्तेमाल किया गया। 300 से ज्यादा गाड़ियां जलाई गईं। हमारे पास कुछ संदिग्ध हैं, लेकिन जांच के बाद ही इसकी पुष्टि की जा सकती है। हम यूपी की तरह दंगा करने वालों से नुकसान की वसूली करेंगे।



क्या है दंगाइयों से वसूली का यूपी मॉडल?


19 दिसंबर 2019 को लखनऊ में नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के विरोध में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। योगी सरकार ने घोषणा की थी कि दंगे में हुए नुकसान की भरपाई दंगाइयों की संपत्ति बेचकर ही की जाएगी। लखनऊ जिला प्रशासन ने पूरे शहर में दंगाइयों के पोस्टर लगवा दिए। हालांकि इलाहाबाद हाई कोर्ट ने आरोपियों से वसूली के पोस्टर पर सख्त टिप्पणी की थी। अदालत ने इसे राज्य और नागरिक के प्रति अपमान करार दिया था। हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट से झटके के बावजूद योगी सरकार नागरिकता संशोधन कानून को लेकर हुई हिंसा आरोपियों के पोस्टर पर अडिग रही। योगी सरकार उपद्रवियों पर कार्रवाई के लिए उत्तर प्रदेश रिकवरी ऑफ डैमेज टू पब्लिक एंड प्राइवेट प्रॉपर्टी अध्यादेश-2020 लेकर आई जिसे कैबिनेट से मंजूरी भी मिल गई। इसके तहत आंदोलनों-प्रदर्शनों के दौरान सार्वजनिक या निजी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने पर दोषियों से वसूली भी होगी और उनके पोस्टर भी लगाए जाएंगे। अब तक दिसंबर में हुई हिंसा के दर्जनों आरोपियों से वसूली की भी जा चुकी है।

फेसबुक पोस्ट पर सुलग उठा बेंगलुरु, आगजनी और तोड़फोड़फेसबुक पोस्ट पर सुलग उठा बेंगलुरु, आगजनी और तोड़फोड़

Web Title karnataka home minister says damage inflicted in east bengaluru violence will be recovered from property of rioters(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)
Get Bangalore News, Breaking news headlines about Bangalore or Chennai crime, Bangalore or Chennai politics and live updates on local Chennai news. Browse Navbharat Times to get all latest news in Hindi.

रेकमेंडेड खबरें

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *