स्वतंत्रता दिवस 2020: PM मोदी को क्यों याद आए अटल बिहारी वाजपेयी?

[ad_1]

नई दिल्ली
भारत के 74वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को याद किया। उन्होंने स्वर्णिम चतुर्भुज (Golden Quadrilateral, GQ) का जिक्र करते हुए कहा कि देश इसे गर्व से देख रहा है। स्वर्णिम चतुर्भज हाइवे प्रॉजेक्ट वाजपेयी का ड्रीम प्रॉजेक्ट था और आज न सिर्फ यह आजाद भारत का सबसे बड़ा इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रॉजेक्ट है, बल्कि दुनियाभर में सबसे विशाल हाइवे प्रॉजेक्ट्स में से एक है।

‘गर्व से देख रहा है देश’
पीएम मोदी ने अपने भाषण के दौरान कहा कि जब अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री थे, तो वह सड़क इन्फ्रास्ट्रक्चर को अलग लेवल पर लेकर गए और आज देश स्वर्णिम चतुर्भुज को गर्व से देख रहा है। उन्होंने अब मल्टि-मोडल इन्फ्रास्ट्रक्चर पर ध्यान देने की जरूरत बताई। आपको बता दें कि इस स्वर्णिम चुतुर्भुज से देश के चार बड़े केंद्रों- दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नै क आपस में जोड़ा गया है।

अटल का ड्रीम प्रॉजेक्ट
साल 1999 में पीएम बनने के कुछ महीने बाद ही तत्कालीन पीएम वाजपेयी ने देश के 20 सबसे व्यस्त इलाकों को लेकर चार-लेन के हाइवे का प्लान बनाने के लिए परिवहन मंत्रालय से कहा था। उस वक्त NHAI के सदस्य रहे एलके जोशी बताते हैं- ‘अटल जी कहते थे कि हमारे देश की सड़कों में गड्ढे हैं या गड्ढों में सड़कें हैं?’ इसलिए जैसे ही उन्हें मौका मिला, सबसे पहले उन्होंने GQ को सैंक्शन किया। एक साल बाद चार शहरों को जोड़ने का काम शुरू हो गया।

सबसे बड़ा इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रॉजेक्ट

सबसे बड़ा इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रॉजेक्ट

GQ ने लिखी थी नई कहानी
खास बात यह है कि इस प्रॉजेक्ट में सिर्फ उत्तर-दक्षिण और पूर्व-पश्चिम को ही नहीं, नैशनल हाइवे डिवेलपमेंट प्रॉजेक्ट के शुरुआती चरणों में डायगनली भी जोड़ा गया था। साल 2012 में ऑरिजिनल प्लान को पूरा कर लिया गया था। अधिकारी बताते हैं कि ऑरिजिनल प्लान पर काम की रफ्तार इतनी तेज थी कि उसका 90% काम पहले चार साल में ही पूरा कर लिया गया था।

GQ देश के हाइवे सेक्टर को कई तरीके से आगे लेकर गया। पहली बार Hot Mix Plants से डामर की सड़कें बन रही थीं, मीडियन-गार्डरेल को शामिल किया जा रहा था। इंजिनियरिंग से जुड़े समाधान करने के लिए बाहर से कंसल्टेंट लाए जा रहे थे।

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *