सुशांत सिंह राजपूत केस की सीबीआई जांच, देश की इस शीर्ष एजेंसी में क्यों है इतना भरोसा

[ad_1]

सुशांत सिंह राजपूत केस: परिवार का आरोप, रिया ने सुशांत और बहन प्रियंका के बीच बढ़ाई दूरियांसुशांत सिंह राजपूत केस: परिवार का आरोप, रिया ने सुशांत और बहन प्रियंका के बीच बढ़ाई दूरियां
हाइलाइट्स

  • सुशांत सिंह राजपूत केस की सीबीआई कर रही जांच
  • ईडी भी मनी लॉन्ड्रिंग मामले में रिया चक्रवर्ती से कर रही पूछताछ
  • बिहार सरकार ने की थी सीबीआई जांच की अनुशंसा
  • सुशांत का मुंबई के फ्लैट में शव मिला था, उनके पिता ने बिहार में रिया के खिलाफ दर्ज कराई थी FIR

नई दिल्ली

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत (Sushant Singh Rajput Death Case) ने पूरे देश के स्तब्ध कर दिया था। सुशांत के मौत की जांच मुंबई पुलिस कर रही थी। बाद में सुशांत के पिता केके सिंह ने इस मामले में पटना के एक पुलिस स्टेशन में FIR दर्ज करा दी। इसके बाद बिहार पुलिस ने भी मामले की जांच शुरू कर दी। इस बीच, राजनीति से लेकर फिल्म जगत के लोगों ने इस मामले की जांच सीबीआई (CBI Investigation in Sushant Case) से कराने की मांग की। बिहार पुलिस ने आरोप लगाया कि उसे जांच में मुंबई पुलिस से सहयोग नहीं मिल रही है जबकि मुंबई पुलिस का कहना था कि इस जांच में बिहार पुलिस का कोई काम नहीं है। इन सब घटनाओं के बीच सुशांत के पिता ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार से इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की और राज्य सरकार ने इसकी अनुशंसा केंद्र सरकार को भेज दी। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने बिहार सरकार की मांग पर देश की शीर्ष जांच एजेंसी से सुशांत मौत की जांच कराने को मंजूरी दे दी। ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर हर लोग सीबीआई जांच की मांग क्यों होती है? सीबीआई कैसे करती है जांच आइए जानने की कोशिश करते हैं..

ED ने जब्त किए रिया के मोबाइल और लैपटॉप

सुशांत मौत की सीबीआई जांच की मांग



बिहार के राजनेता से लेकर फिल्म इंडस्ट्री के कई कलाकार तक सुशांत केस की सीबीआई जांच की मांग कर चुके थे। महाराष्ट्र के डेप्युटी सीएम अजित पवार के बेटे पार्थ पवार ने भी राज्य के गृह मंत्री से मिलकर इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की थी। पूर्व केंद्रीय मंत्री बीजेपी नेता कें सुब्रमण्यन स्वामी ने भी सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सीबीआई जांच की मांग की थी। वहीं, बिहार में लगभग हर दलों के नेता आरजेडी के तेजस्वी यादव, एलजेपी के चिराग पासवान, कांग्रेस के प्रेमचंद्र मिश्रा समेत सत्तारूढ़ जेडीयू और बीजेपी गठबंधन के बड़े नेता भी इसकी मांग कर चुके थे।

सुशांत अपडेट: ‘बहन के साथ नहीं था कोई विवाद’

सुशांत मामले की सीबीआई जांच की मांग ही क्यों?

दरअसल, सुशांत की मौत के 40 दिनों बाद भी मुंबई पुलिस ने कोई FIR दर्ज नहीं की थी। वह फिल्म जगत से जुड़े बड़े लोगों से पूछताछ तो कर रही थी लेकिन किसी ठोक नतीजे पर नहीं पहुंची थी। इस बीच, बिहार पुलिस ने भी मामले की जांच शुरू कर दी और राज्य के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को जांच के लिए मुंबई भेजा गया। लेकिन बीएमसी ने अधिकारी को ही क्वारंटीन कर दिया। ऐसे में सुशांत मामले पर दो राज्य आमने-सामने आ गए थे। शिवसेना ने आरोप लगाया कि बिहार सरकार जांच को प्रभावित करने की कोशिश कर रही है। शिवसेना की राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा है कि अगर सुशांत की मौत के मामले की जांच होनी है तो इसे सिर्फ सीबीआई ही कर सकती है और बिहार की पुलिस एवं सरकार का इसमें कोई पक्ष नहीं है। ऐसे में जैसे ही बिहार सरकार ने मामले की जांच सीबीआई से कराने की अनुशंसा की केंद्र सरकार ने भी इसे मंजूरी देने में देरी नहीं की।


29 नवंबर 2019 को भेजे थे सुशांत के पिता ने मेसेज

  • 29 नवंबर 2019 को भेजे थे सुशांत के पिता ने मेसेज

    सुशांत के पिता केके सिंह के वॉट्सऐप मेसेज सामने आए हैं जो उन्होंने 29 नवंबर 2019 को रिया को भेजे थे। इन मेसेज से पता चलता है कि वह अपने बेटे की तबीयत को लेकर काफी परेशन थे और सुशांत से बात नहीं कर पा रहे थे।

  • सुशांत के पिता से बात नहीं कर रही थीं रिया

    रिया को भेजे इस मेसेज में सुशांत के पिता ने लिखा, ‘जब तुम जान गई कि मैं सुशांत का पापा हूं तो बात क्यों नहीं की। आखिर बात क्या है? फ्रेंड बनकर उसका देखभाल और उसका इलाज करवा रही हो तो मेरा भी फर्ज बनता है कि सुशांत के बारे में सारी जानकारी मुझे रहे। इसलिए कॉल कर मुझे भी सारी जानकारी दो।’ सुशांत के पिता ने यह मेसेज दोपहर साढ़े 12 बजे के आसपास भेजा था।

  • श्रुति मोदी को भी सुशांत के पिता ने भेजा था मेसेज

    जब सुशांत के पिता केके सिंह ने ये मेसेजेस भेजे थे तब श्रुति मोदी सुशांत की बिजनस मैनेजर के तौर पर काम देख रही थीं। उसी दिन सुशांत के पिता ने रिया के अलावा श्रुति मोदी को भी मेसेज भेजा था।

  • श्रुति से मांगी थी मुंबई फ्लाइट की टिकट

    सुशांत के पिता ने श्रुति को भेजे मेसेज में लिखा, ‘मैं जानता हूं कि सुशांत का सारे कर्ज और उसे भी तुम देखती हो। वह अभी किस स्थिति में है, इसके लिए बात करना चाह रहे थे। कल सुशांत से बात हुई थी तो उसने कहा था कि मैं बहुत परेशान हूं। अब तुम सोचो कि ये एक पिता को कितनी चिंंता होगी उसके लिए। इसलिए तुमसे बात करना चाह रहा था। अब तुम बात नहीं कर रही हो तो मैं मुंबई जाना चाहता हूं। फ्लाइट का टिकट भेज दो।’

यह भी पढ़ें, परेशान थे सुशांत के पिता, रिया को भेजे थे मेसेज

आखिर सीबीआई पर क्यों है इतना भरोसा?


दरअसल, सीबीआई देश की शीर्ष जांच एजेंसी है। उसके पास तमाम संसाधन होते हैं। राज्य पुलिस को स्थानीयता प्रभावित कर सकती है। या राजनीतिक दलों के दबाव के कारण राज्य पुलिस की जांच प्रभावित हो सकती है लेकिन केंद्रीय एजेंसी के पर ये दबाव काम नहीं करते हैं। इसके पास गिरफ्तार करने, तलाशी लेने, हिरासत में लेने समेत कई शक्तियां हैं। हालांकि कई मामले ऐसे भी रहे हैं जिसमें सीबीआई की आलोचना भी हुई है। लेकिन आमतौर पर सीबीआई की कार्यप्रणाली और उसकी जांच निष्पक्ष रही है।

सुशांत की भांजी ने किया बताई मामू की विश

सुशांत केस में CBI ने दर्ज कर ली है FIR

सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती, इंद्रजीत चक्रवर्ती, संध्या चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती, सैमुअल मिरांडा, श्रुति मोदी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। वहीं, सुशांत मामले से संबंधित दस्तावेज सीबीआई की टीम ने बिहार पुलिस से ले लिए हैं। सीबीआई ने जब से सुशांत केस में रिया सहित छह लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी, तब से वह बिहार पुलिस के संपर्क में थी।

बिहारी फैमिली गर्लफ्रेंड बर्दाश्त नहीं कर पाती, इसे सुनकर भड़के सुशांत के जीजा

  • बिहारी फैमिली गर्लफ्रेंड बर्दाश्त नहीं कर पाती, इसे सुनकर भड़के सुशांत के जीजा

    सुशांत सिंह राजपूत केस को लेकर रोज लगातार नई-नई चीजें सामने आ रही हैं। सुशांत के पिता केके सिंह ने बेटे की मौत के करीब 40 दिन बाद उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाया। इस मामले के बाद हाल ही में एक मीडिया पोर्टल पर ओपिनियन पीस लिखा गया, जिसमें कहा गया कि बिहारी फैमिली गर्लफ्रेंड को बर्दाश्त नहीं कर पाती है। अब इस आर्टिकल का जवाब सुशांत के जीजाजी विशाल कीर्ति ने दिया है।

  • कहा गया बिहारी फैमिली की सोच टॉक्सिक है

    दरअसल रिया के खिलाफ सुशांत की फैमिली की उठी आवाज पर एक ओपिनियन पोल लिखा गया था, जिसमें बिहारी फैमिली की मानसिकता पर निशाना साधा गया था। इस आर्टिकल में लिखा गया था कि बिहारी फैमिली गर्लफ्रेंड को बर्दाश्त नहीं कर सकती, क्योंकि उनकी सोच टॉक्सिक है। अब विशाल ने अपनी दमदार लेखन के जरिए इस आर्टिकल में उनके परिवार की मानसिकता को लेकर लिखी गई बातों को गलत ठहराया है।

  • 'मैं अपनी इंडिपेंडेंट सोच रख रहा हूं'

    विशाल ने बिहारियों पर उठी इस उंगली का जवाब अपने ब्लॉग के जरिए दिया है। उन्होंने सबसे पहले डिस्क्लेमर लिखा है, जिसमें कहा है- मैं यह सुशांत सिंह राजपूत के पिता (मेरे ससुर जी) की तरफ से नहीं, बल्कि अपनी इंडिपेंडेंट सोच रख रहा हूं।

  • 'अब बात पूरे बिहार के लोगों के खिलाफ है'

    उन्होंने उस आर्टिकल (जिसमें इस केस को लेकर पूरे बिहारी फैमिली पर निशाना साधा गया है) का जिक्र कहते हुए लिखा- हमारी फैमिली में इतनी बड़ी घटना हो गई और चूंकि मुझे परिवार के बाकी लोगों की तरह काम भी करना है, इसलिए मैं कुछ बोल नहीं रहा था। मैंने अब बोलने का फैसला इसलिए लिया क्योंकि यह केवल मेरे अपनों पर असर नहीं करेगा बल्कि अब बात पूरे बिहार के लोगों के खिलाफ है।

  • 'पूरा परिवार अंकिता के बारे में जानता था'

    उन्होंने लिखा है, ‘यह बहुत ही बेतुका है। चलिए, सुशांत से शुरू करते हैं। काफी लोगों को पता है कि सुशांत ने अंकिता को 6 साल तक डेट किया है और वे साथ रहते थे। परिवार के कुछ लोग, जिसमें मेरी वाइफ भी शामिल हैं अंकिता के लगातार टच में थीं।’

  • 'फिर हम कृति से मिले'

    उन्होंने आगे लिखा, ‘इसके बाद शायद सुशांत कृति को डेट करने लगे (जिसके बारे में उन्होंने कभी खुलकर नहीं कहा कि हम डेट कर रहे हैं, इसलिए हो सकता है कि वे आपस में अच्छे फ्रेंड्स हों)। हम आखिरी बार जुलाई 2017 में कृति से मिले और हमें वो भी अच्छी लगीं।’

  • 'मेरी पत्नी के खिलाफ कभी मेरे परिवार का टॉक्सिक ऐटिट्यूड नहीं रहा'

    उन्होंने आगे लिखा है, ‘मैं भी बिहार से हूं और मेरे परिवार का कभी मेरी पत्नी के खिलाफ कोई टॉक्सिक ऐटिट्यूड नहीं रहा, जो कि शादी से पहले करीब 4 साल तक मेरी गर्लफ्रेंड भी रहीं।’यहां बताना चाहेंगे कि सुशांत के फैमिली अंकिता के काफी क्लोज रही है और घरवाले उन्हें सुशांत की लव लाइफ के रूप में काफी पसंद करते थे। आज भी अंकिता को सुशांत के घर वाले अेपने परिवार का हिस्सा ही मानते हैं।

ये अधिकारी करेंगे सुशांत केस की जांच

सुशांत केस की मनोज शशिधर की अगुवाई में जांच की जाएगी और डीआईजी गगनदीप गंभीर जांच की निगरानी करेंगे। जांच के लिए अनिल यादव को (इन्वेस्टिगेटिंग ऑफिसर) आईओ नियुक्त किया गया है। सीबीआई की इस टीम ने विजय माल्या केस हैंडल किया है।

यह भी पढ़ें,रमेश तौरानी की सुशांत से क्या हुई थी बात?

सीबीआई का स्ट्रक्चर भी जान लें

सीबीआई का मुखिया को डायरेक्टर या निदेशक कहते हैं। यह राज्यों के पुलिस महानिदेशक या पुलिस कमिश्नर रैंक का अधिकारी होते हैं। इसके अलावा सीबीआई में स्पेशल डायरेक्टर/एडिशन डायरेक्टर रैंक होती है। संयुक्त निदेशक, आईजीपी, इंस्पेक्टर, सब इंस्पेक्टर, असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर, हेड कांस्टेबल और कांस्टेबल जैसे पद होते हैं। सभी रैंक मिलाकर देश की इस शीर्ष संस्था के लिए 4,078 पद स्वीकृत हैं। इसके अलावा प्रशासनिक कर्मचारियों की संख्या 1,284 है। इसके अतिरिक्त सीबीआई के पास 230 LAW ऑफिसर, 155 टेक्निकल पद, 144 ग्रुप डी के पद और 64 अन्य पद होते हैं। 171 पद साइंटिस्ट और CFSL के होते हैं।

सुशांत की बहन ने दिखाया शिव का रौद्र रूप

सीबीआई चीफ की ऐसे होती है नियुक्ति

सीबीआई चीफ की नियुक्ति दो साल के लिए होती है। सीबीआई चीफ की नियुक्ति पीएम, विपक्ष के नेता और सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस मिलकर करते हैं।

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *