शरद पवार के बयान से परिवार में फिर खलबली, बेटी सुप्रिया सुले साधने में जुटीं

[ad_1]

हाइलाइट्स:

  • शरद पवार ने पार्थ पवार को अपरिपक्व कह दिया जिसके बाद ऐसी खबरें
  • शरद पवार के बयान से पार्थ के पिता अजित पवार भी आहत हुए हैं
  • पवार की बेटी सुप्रिया सुले अजित पवार से मिलने सीधे मंत्रालय पहुंचीं
  • पार्थ अपनी बुआ सुप्रिया सुले से मिलने शरद पवार के बंगले पर पहुंचे

विशेष संवाददाता, मुंबई
अपने नाती और भतीजे अजीत पवार के बेटे पार्थ पवार को सार्वजनिक रूप से अपरिपक्व कहकर शरद पवार ने आहत कर दिया है। कहां जा रहा है कि पवार के बयान से सिर्फ पार्थ पवार ही नहीं बल्कि उनके पिता अजित पवार भी आहत हो गए हैं। परिवार के मुखिया शरद पवार की बेरुखी से आहत पार्थ पर मरहम लगाने की जिम्मेदारी सुप्रिया सुले ने उठा ली है।

अजित पवार से मिलने पहुंची सुप्रिया
गुरुवार को शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले अजित पवार से मिलने सीधे मंत्रालय पहुंच गई। हालांकि उन्होंने कहा कि वह अपने संसदीय चुनाव क्षेत्र बारामती से संबंधित किसी काम के लिए अजीत पवार से मिलने आई हैं। इस मुलाकात को लेकर राजनीतिक स्तर पर चर्चाएं चल ही रही थी इसी बीच शाम को पार्थ पवार अपनी बुआ सुप्रिया सुले से मिलने शरद पवार के बंगले सिल्वर ओक पर पहुंचे।

राजस्थान : बीजेपी अविश्वास प्रस्ताव को जनता के मुद्दे उठाने के लिए करेगी इस्तेमाल


परिवार में कोई नाराजगी नहीं- जयंत पाटिल

इससे पहले पार्थ के नजदीकी सूत्रों ने यह खबर बड़ी तेजी से फैलाई की पार्थ पवार शरद पवार के बयान से आज हैं और जल्दी ही कोई बड़ा फैसला लेने वाले हैं। राकांपा (NCP-नैशनल कांग्रेस पार्टी) के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल ने कहा की पार्टी और परिवार में कोई नाराजगी नहीं है। पार्टी के दूसरे बड़े नेता छगन भुजबल ने कहा कि पार्थ पवार राजनीति में अभी नए हैं।

बीजेपी गए कई नेता वापस आने की तैयारी में
इस बीच राकांपा खेमे से यह खबर बाहर आई कि पिछले चुनाव के वक्त राकांपा छोड़कर बीजेपी में गए राकांपा नेताओं को वापस लाने के लिए रणनीति तैयार की गई है और इसकी जिम्मेदारी शरद पवार ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल और अपने अजीत पवार को सौंपी है। राकांपा यह प्रचार कर रही है कि बीजेपी में गए कई नेता वापस लौटना चाहते हैं।

बीजेपी ने कसा तंज
इन खबरों का खंडन करते हुए बीजेपी ने तंज कसा कि राकांपा पहले अपना घर और परिवार संभाले। बीजेपी नेता आशीष शेलार ने कहा कि बीजेपी को ना तो किसी का परिवार तोड़ने में कोई रुचि है और न सरकार गिराने में। उन्होंने आरोप लगाया कि राकांपा नेता पार्टी और सरकार के भीतर कि कलह से ध्यान भटकाने के लिए बीजेपी को तोड़ने की मनगढ़ंत कहानियां फैला रहे हैं।

गणपति विसर्जन के साथ सरकार का विसर्जन-अठावले
इधर आरपीआई अठावले के नेता और केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री रामदास अठावले ने बयान दिया है कि गणपति विसर्जन के साथ-साथ महा विकास आघाडी सरकार का भी विसर्जन हो जाएगा।

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *