रूस, जापान और भारत का गठजोड़? ड्रैगन के लिए हो रही बड़ी तैयारी

[ad_1]

India expects Russia to join Indo-Pacific News: भारत चीन को घेरने के लिए कूटनीतिक मोर्चे पर सक्रिय है। नई दिल्ली अपने पुराने मित्र रूस के साथ मिलकर प्रशांत पेसिफिक में एक गठजोड़ बनाने में जुटा है। इसमें जापान को भी शामिल करने की योजना है।

चीन पर कोई चांस नहीं लेगी सेना, विंटर प्लान पर काम शुरूचीन पर कोई चांस नहीं लेगी सेना, विंटर प्लान पर काम शुरू
हाइलाइट्स

  • भारत और चीन के बीच पिछले कई महीने से चल रही है तनातनी
  • LAC पर भारत ने सैनिकों की तादाद बढ़ा दी है
  • इस बीच, भारत रूस के साथ मिलकर एक त्रिपक्षीय गठबंधन बनाने पर कर रहा है विचार
  • इस गठबंधन में जापान को भी किया जा सकता है शामिल

नई दिल्ली

लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर चीन के साथ चल रहने तनातनी के बीच भारत कूटनीतिक मोर्चे पर लगातार ऐक्टिव है। LAC पर भारतीय जवान चीनी सेना की किसी भी हिमाकत का जवाब देने के लिए पूरी तरह तैयार वहीं भारत रूस के साथ मिलकर एक त्रिपक्षीय गठबंधन बनाने की दिशा में मुहिम चला रहा है। इस गठबंधन में जापान को भी शामिल किया जा सकता है।

चीन को घेरने के लिए बनेगी रणनीति!

पिछले कुछ समय से रूस और चीन में नजदीकियां आई हैं लेकिन मास्को भारत का भरोसेमंद मित्र रहा है। पिछले सप्ताह भारत और रूस के बीच प्रशांत क्षेत्र में जापान को साथ लेकर त्रिपक्षीय गठबंधन को लेकर बातचीत हुई है। भारत का मानना है कि इंडो-पैसफिक इलाके फ्री और सबके लिए खुला है। ASEAN की धुरी ही यही है, यह किसी को बाहर नहीं करता है।



रूस की चिंताओं को भारत ने किया दूर


भारत इस गठबंधन को लेकर रूस के कुछ चिंताओं को दूर किया है। नई दिल्ली को उम्मीद है कि रूस इसमें शामिल हो सकता है। विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला ने 4 अगस्त के रूस के उप विदेशमंत्री इगोर मोरगुलोव से इस गठबंधन के प्रस्ताव और मैकेनिजम पर चर्चा की थी।

फाइल फोटो

फाइल फोटो

Web Title ladakh standoff will russia join indo-pacific initiative with japan trilateral(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *