राम जन्मभूमि ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास कोरोना पॉजिटिव, जन्माष्टमी कार्यक्रम में हुए थे शामिल

[ad_1]

राम जन्मभूमि ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास कोरोना पॉजिटिव, जन्माष्टमी कार्यक्रम में हुए थे शामिल

राम जन्मभूमि ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास बीच में

कृष्ण जन्माष्ठमी समारोह के लिए महंत नृत्य गोपाल दास (Mahant Nritya Gopal Das) श्री कृष्ण जन्मस्थान क्षेत्र में मौजूद थे. तभी उन्हें सांस लेने की दिक्कत हुई. जिसके बाद एम्बुलेंस आश्रम में पहुंची.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    August 13, 2020, 12:00 PM IST

मथुरा. कृष्ण जन्माष्टमी (Krishna Janmashtami) के मौके पर मथुरा (Mathura) पहुंचे श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्र्स्ट (Shriram Janambhumi Teerth Kshetra Trust) के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास (Mahant Nritya Gopal Das) की तबीयत अचानक बिगड़ गई. सर्दी, बुखार और सांस लेने में दिक्कत है, जिसके बाद उन्हें ऑक्सीजन लगाया गया. कोरोना के लक्षण मिलने के बाद उनका जांच किया गया जिसमें वे संक्रमित पाए गए. इसकी सूचना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने डीएम मथुरा और मेदांता अस्पताल के डॉ त्रेहान से उन्हें मेडिकल सुविधा मुहैया करवाने के निर्देश दिए.

महंत कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर मथुरा पहुंचे थे, जहां उनकी तबीयत अचानक बिगड़ गई. उन्हें बुखार और सांस लेने में तकलीफ है. आनन-फानन में डॉक्टरों को बुलाया गया. तबीयत बिगड़ने के बाद डीएम मथुरा समेत आगरा के सीएमओ व अन्य डॉक्टर इलाज के लिए सीताराम आश्रम पहुंचे. साथ ही कोविड-19 की टीम भी आश्रम पहुंची.

शिष्य ने बताया महंत जी ठीक

महंत नृत्य गोपाल दास के एक शिष्य ने बताया कि महाराज जी करीब 700 किमी की दूरी तय कर यहां पहुंचे हैं. सफ़र की थकान और मौसम में बदलाव की वजह से उन्हें सर्दी जुखाम की शिकायत है. डीएम समेत सीएमओ मौजूद हैं. महाराज जी की कोरोना जांच हुई है. फिलहाल महाराज जी ठीक महसूस कर रहे हैं. उन्हें मेदांता अस्पताल में एडमिट कराया जा सकता है.सीएम योगी ने भी जाना हाल
उधर महंत नृत्य गोपाल दास की तबीयत बिगड़ने की सूचना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी फोन पर उनका हाल जाना. उन्होंने नृत्य गोपाल दास के जल्द स्वस्थ होने की कामना भी की.

बता दें श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट और श्रीकृष्ण जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास मंगलवार शाम मथुरा पहुंचे थे. वे अपने साथ सरयू नदी का पावन जल लेकर आए थे. इस बार कृष्‍ण जन्‍मस्‍थान पर कान्‍हा का तीन नदियों के जल से अभिषेक किया गया.



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *