राजीव त्‍यागी के निधन के बाद निशाने पर संबित पात्रा, जानें क्‍या है वजह

[ad_1]

Rajiv Tyagi died: कांग्रेस प्रवक्‍ता राजीव त्‍यागी आखिरी बार जिस टीवी डिबेट का हिस्‍सा बने, उसमें बीजेपी की तरफ से संबित पात्रा भी शरीक हुए थे। पात्रा ने एक वक्‍त त्‍यागी को ‘जयचंद’ कहकर संबोधित किया था। जिसका विडियो अब वायरल हो गया है।

Edited By Deepak Verma | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

नहीं रहे कांग्रेस के 'बब्बर शेर' प्रवक्ता राजीव त्यागीनहीं रहे कांग्रेस के ‘बब्बर शेर’ प्रवक्ता राजीव त्यागी
हाइलाइट्स

  • कांग्रेस के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता थे राजीव त्यागी, टीवी डिबेट्स में जोरदार ढंग से रखते थे बात
  • निधन से ठीक पहले टीवी चैनल पर बहस में थे शामिल, बेंगलुरु हिंसा पर रखा पार्टी का पक्ष
  • बीजेपी के संबित पात्रा संग कई बार हुई तीखी बहस, तूतू-मैंमैं का पुराना इतिहास
  • निधन के बाद लोगों के निशाने पर आए पात्रा, खराब भाषा का इस्‍तेमाल करने के लिए झेल रहे गुस्‍सा

नई दिल्‍ली

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजीव त्यागी का बुधवार शाम दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। थोड़ी देर पहले वह एक टीवी चैनल पर डिबेट में हिस्सा ले रहे थे। बताया जाता है कि बहस खत्म होने के कुछ ही मिनटों में तकलीफ शुरू हुई और वह बेहोश हो गए। उन्हें गाजियाबाद स्थित यशोदा हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। त्‍यागी के निधन के बाद कांग्रेस के दिग्‍गज नेताओं समेत कई नामी हस्तियों ने शोक प्रकट किया है। वहीं, ट्विटर पर बीजेपी प्रवक्‍ता संबित पात्रा के खिलाफ ट्वीट्स का अंबार लगने लगा है। कई यूजर्स त्‍यागी की आखिरी टीवी डिबेट का विडियो शेयर कर पात्रा को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं। उनका आरोप है कि पात्रा ने बेहद आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग किया जिससे त्‍यागी की तबीयत बिगड़ गई।

पात्रा ने राजीव त्‍यागी के लिए क्‍या कहा?

त्‍यागी एक निजी चैनल पर बेंगलुरु हिंसा पर बहस में शामिल हुए थे। जो विडियो वायरल हैं उसमें बीजेपी प्रवक्‍ता संबित पात्रा कहते नजर आ रहे हैं, “हमारे घर के जयचंदों ने हमारे घर को लूटा है। अरे नाम लेने में शर्म कर रहे हैं। वो घर जला रहे हैं और यहां जयचंद नाम तक नहीं ले पा रहे हैं। अरे, टीका लगाने से कोई सच्‍चा हिंदू नहीं बन जाता है। टीका लगाना है तो दिल में लगा और कहो कि किसने घर जलाया है।” त्‍यागी बीच में कहते हैं कि ‘मैं जवाब देना चाहता हूं।’ एक और विडियो वायरल है जिसमें डॉक्‍टर कह रहे हैं कि त्यागी को टीवी डिबेट के दौरान ही दिल का दौरा पड़ गया था।

क्‍या कह रहे हैं लोग?

सोशल मीडिया पर कांग्रेस के नेताओं के अलावा बड़ी संख्‍या में यूजर्स ने पात्रा के लहजे और भाषा की तीखी आलोचना की है। कांग्रेस नेता गौरव पंधी ने लिखा कि ‘पात्रा ने राजीव त्‍यागी को गद्दार कहा।’ एक अन्‍य कांग्रेस नेता ने कुछ पत्रकारों के साथ पात्रा के नाम गिनाते हुए कहा कि इन लोगों ने मीडिया को बेहद जहरीला बना दिया है। कई यूजर्स ने पात्रा को सीधे-सीधे त्‍यागी की मौत का जिम्‍मेदार ठहराया और उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की।

पात्रा ने निधन पर जताया शोक

कांग्रेस प्रवक्‍ता के निधन के बाद शोक जताने के लिए ट्वीट करने वालों में पात्रा भी शामिल थे। उन्‍होंने लिखा था, “विश्वास नहीं हो रहा है कंग्रेस के प्रवक्ता मेरे मित्र श्री राजीव त्‍यागी हमारे साथ नहीं है। आज 5 बजे हम दोनो ने साथ में डिबेट भी किया था। जीवन बहुत ही अनिश्चित है …अभी भी शब्द नहीं मिल रहे। हे गोविंद राजीव जी को अपने श्री चरणों में स्थान देना।”

राजीव त्‍यागी ने आखिरी बहस में क्‍या कहा?

पार्टी का पक्ष रखते हुए त्‍यागी ने कहा था कि “दंगाई सलाखों के पीछे होने चाहिए।” इसके बाद उन्‍होंने भाजपा के स्‍थानीय कार्यकर्ता की एक पोस्‍ट पढ़ी। इसके बाद त्‍यागी ने कहा, “भाजपा वर्कर होने की वजह से उनकी गिरफ्तारी तीन घंटे बाद की गई। जिन्‍होंने पोस्‍ट किया, वह सलाखों के पीछे होने चाहिए। जिन्‍होंने कानून हाथ में लिया, वह भी सलाखों के पीछे होने चाहिए।”

राजीव त्‍यागी पर राहुल बोले- बब्‍बर शेर चला गया

14 साल से कांग्रेस में थे त्‍यागी

लोकदल से अपने राजनीतिक पारी की शुरुआत करने वाले 50 वर्षीय त्यागी 2006 में पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद के नेतृत्व में कांग्रेस में शामिल हुए। तब से वह विभिन्न भूमिकाओं में थे। कुछ साल पहले उन्हें पार्टी ने राष्ट्रीय प्रवक्ता की ज़िम्मेदारी सौंपी। फिलहाल वह यूपी कांग्रेस में महासचिव व प्रदेश कांग्रेस के मीडिया प्रभारी की ज़िम्मेदारी भी देख रहे थे।

त्‍यागी के साथ डिबेट में थे पात्रा। (फाइल)

त्‍यागी के साथ डिबेट में थे पात्रा। (फाइल)

Web Title rajiv tyagi death news sambit patra faces twitter ire for using strong language in last tv debate(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *