मुलायम सिंह यादव की तबीयत बिगड़ी, लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती

[ad_1]

मुलायम सिंह यादव की तबीयत बिगड़ी, लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती

डॉक्टरों की निगरानी में इलाज किया जा रहा है. (File Photo)

Mulayam Singh Yadav Health Update: तबियात बिगड़ने के बाद उन्हें लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

लखनऊ. समाजवादी पार्टी के संरक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की तबियात अचानक बिगड़ गई है. उन्हें लखनऊ के मेदांता अस्पताल (Medanta Hospital) में भर्ती करवाया गया है. फिलहाल डॉक्टरों की टीम मुलायम सिंह यादव के स्वास्थ्य की निगानी कर रही है. मेदांता के डॉक्टरों के मुताबिक, मुलायम सिंह की हालत फिलहाल ठीक है. मालूम हो कि मुलायम सिंह को तकरीबन एक महीने पहले पहले भी मेदांता में भर्ती कराया गया था. उस वक्त उन्हें पेट  से संबंधित कुछ समस्या थी.

मेदांता के डायरेक्टर राकेश कपूर ने बताया है कि सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव गुरुवार रात से अस्पताल में एडमिट किया गया है. उनका पेट से संबंधित मामले में इलाज चल रहा है. चिकित्सकों के अनुसार उनकी तबियत फिलहाल ठीक है. पेट में कुछ समस्या होने पर उन्हें मेदांता अस्पताल लाया गया है. राकेश कपूर के मुताबिक, मुलायम को यूरिनल इंफेक्शन की भी शिकायत है. उनका कोरोना टेस्ट कराया गया है जिसकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है.

जन्मदिन में काटा था 81 किलो का लड्डू केक

हाल ही में समाजवादी पार्टी के संस्थापक और वर्तमान संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने अपना जन्मदिन मनाया था. इस दौरान कार्यकर्ताओं के बीच मुलायम सिंह ने 81 किलो का लड्डू केक काटा था. इस मौके पर सपा अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मंच पर मौजूद थे. मुलायम सिंह के जन्मदिवस पर उनके सैफई (Saifai) स्थित घर से लेकर लखनऊ (Lucknow) तक कई कार्यक्रम आयोजित किए गए थे.ये भी पढ़ें: राजस्थान के CS-DGP संसद की विशेषाधिकार हनन समिति के सामने होंगे पेश, जानें क्या है मामला

इस मौके पर मुलायम सिंह ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा था कि आप सब कई वर्षों से मेरा जन्मदिन मना रहे हैं. अब जरूरी है कि कार्यकर्ताओं का जन्मदिन मनाया जाए. उन्होंने कहा था कि आप अपने क्षेत्र के कार्यकर्ता का जन्मदिन मनाएं और मुझे बुलाएं. उन्होंने कहा था कि देश में कई समस्याएं हैं. आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है, इसलिए हमेशा ही अन्याय के खिलाफ लड़ें. गरीब और किसानों के लिए संघर्ष करें. यही समाजवाद है. मुलायम ने बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं की मौजूदगी पर उनका आभार जताया था.



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *