भारत में 2 दिन में 1 लाख आ रहे कोरोना केस, आंकड़ा अब 16 लाख पार



नई दिल्ली
की रफ्तार दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। आंकड़ों के मुताबिक देश में 2 दिनों में लगभग 1 लाख कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं। गुरुवार को के कुल केसों की संख्या बढ़कर 16 लाख से ज्यादा हो गई। वहीं, संक्रमण से मरने वालों की तादाद भी बढ़कर 35,134 हो गई है।

10 लाख से ज्यादा लोग कोरोना से ठीक हुए
कोरोना वायरस के आंकड़ों पर नजर रखने वाली वेबसाइट वर्ल्डोमीटर के अनुसार, भारत में कोरोना वायरस के कुल मामलों की संख्या 1,601,070 हो गई है, जबकि मृतकों की संख्या 35,134 है। इस घातक वायरस के संक्रमण से अबतक 1,029,069 लोग ठीक हो चुके हैं।कोरोना संक्रमण के मामलों में महाराष्ट्र अब भी शीर्ष पर बना हुआ है। जबकि, दूसरे स्थान पर तमिलनाडु और तीसरे स्थान पर राजधानी दिल्ली काबिज है।

कोविड-19 की रोजाना 10 लाख जांच करने की योजना
विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री हर्षवर्धन ने बृहस्पतिवार को कहा कि देश में हर दिन कोविड-19 की करीब पांच लाख जांच की जा रही है और अगले एक-दो महीने में यह दोगुनी हो जाएगी। कोविड-19 से मुकाबले के लिए वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) की प्रौद्योगिकी पर एक संग्रह को जारी करते हुए हर्षवर्धन ने कहा कि देश में ठीक होने की दर 64 प्रतिशत से अधिक है और मृत्यु दर 2.2 प्रतिशत है । केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने वायरस से निपटने में चिकित्सा बिरादरी के साथ योगदान दे रहे वैज्ञानिक समुदाय की भी सराहना की ।

स्वास्थ्य मंत्री बोले- कोरोना के खिलाफ लड़ाई अब भी जारी
हर्षवर्धन ने कहा कि भारत में कोविड-19 का पहला मामला 30 जनवरी को आया था और छह महीने हो चुके हैं लेकिन लड़ाई अब भी जारी है । विशाल देश और बड़ी आबादी होने के बावजूद हर मोर्चे पर वायरस के खिलाफ कामयाबी से निपटा गया है । देश में स्वास्थ्य ढांचे को चुस्त-दुरूस्त किए जाने पर मंत्री ने कहा कि छह महीने पहले देश में वेंटिलेटर का आयात होता था लेकिन अब तीन लाख वेंटिलेटर निर्माण की क्षमता तैयार हो गयी है । उन्होंने कहा, ‘‘अब अधिकतर वेंटिलेटर देश के भीतर ही बनाए जा रहे हैं । भारत करीब 150 देशों को हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा की आपूर्ति कर रहा है।

देश में लगातार बढ़ रहा कोरोना टेस्ट की रफ्तार
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि अप्रैल में हम रोजाना 6000 जांच कर पा रहे थे। आज हर दिन पांच लाख से ज्यादा जांच हो रही है। अगले एक-दो महीने में रोजाना 10 लाख जांच करने की हमारी योजना है और हम इस दिशा में काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक समय था जब देश के भीतर आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए कोविड-19 से संबंधित निर्यात रोक दिया गया। हालांकि, शुक्रवार को मंत्री समूह की बैठक में इस पर प्रस्तुति दी जाएगी कि निर्यात को फिर से खोलने के लिए क्या कदम उठाए जा सकते हैं।

देश-दुनिया और आपके शहर की हर खबर अब Telegram पर भी। हमसे जुड़ने के लिए और पाते रहें हर जरूरी अपडेट।



Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *