ब्राह्मण राजनीति पर बोले सीएम योगी- राम भक्तों पर गोलियां चलाने वाले लोग समाज को बांट रहे हैं

[ad_1]

हाइलाइट्स:

  • यूपी में जारी ब्राह्मण राजनीति पर विधानसभा में खुलकर बोले सीएम योगी आदित्यनाथ
  • योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राम भक्तों पर गोली चलवाने वाले लोग समाज को बांट रहे हैं
  • उन्होंने यह भी कहा कि राम और परशुराम में कोई तात्विक भेद नहीं होता है

लखनऊ
उत्तर प्रदेश में ब्राह्मणों को लेकर राजनीति अपने चरम पर है। प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर आरोप लग रहे हैं कि वह ब्राह्मणों को निशाना बना रही है। इसपर जवाब देते हुए शनिवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जिन लोगों ने राम भक्तों पर गोलियां चलवाईं और जातिवाद का नारा लगाते हैं, वही समाज को फिर से बांटने की कोशिश कर रहे हैं। योगी आदित्यनाथ ने ‘परशुराम’ की राजनीति पर कहा कि राम और परशुराम में तात्विक रूप से कोई भेद नहीं है।

विधानसभा की कार्यवाही के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने विपक्षी समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी पर भी जमकर हमला बोला। बिना नाम लिए उन्होंने कहा, ‘राम भक्तों पर जिन लोगों ने गोलियां चलाईं, जो लोग जाति आज जातिवाद का नारा लगा रहे हैं, जब सत्ता में आते हैं तो कन्नौज में बीजेपी कार्यकर्ता नीरज मिश्रा का सिर काटकर घुमाते हैं और जनता से माफी तक नहीं मांगते। यही लोग हैं जो तिलक और तराजू की बात करके ब्राह्मण समाज को गाली देते थे। वही लोग आज फिर से माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे हैं।’

सीएम योगी का तंज, कहा- दिल्ली का नमूना यूपी आकर पूछता है कि कोरोना पर आपने क्या किया?

योगी ने बताया- राम और परशुराम में तात्विक भेद नहीं
परशुराम के मुद्दे पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘राम और परशुराम में तात्विक रूप से कोई भेद नहीं है। ये दोनों ही विष्णु के अवतार हैं। यह केवल बुद्धि का भेद है। जहां बुद्धि कम होती है, वही लोग भ्रम में पड़ते हैं लेकिन शास्त्र ने कोई भेद नहीं माना है। अगर इन लोगों ने राम और परशुराम को समझा होता तो ऐसा नहीं करते। दुर्भाग्य है कि ये देश की खुशी के साथ खुश नहीं हो सकते हैं।’

सीएम योगी आदित्यनाथ ने बिना नाम लिए आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह पर हमला बोला है। सीएम योगी ने कहा कि हमने यूपी के लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए महत्वपूर्ण कार्य किया है। ऐसे में दिल्ली के एक नमूना यहां आकर पूछता है कि आपने लोगों के लिए क्या किया? अब हम उन्हें क्या बताए हमने क्या-क्या किया? इसके बाद सीएम योगी ने कोरोना संक्रमण को लेकर दिल्ली और यूपी का तुलनात्मक आंकड़ा पेश किया। इस दौरान सदन में खूब तालियां बजीं।

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *