बीजेपी नेता ने कार में हेल्मेट नहीं लगाया, कट गया चालान

[ad_1]

कार में हेलमेट नहीं, कट गया चालानकार में हेलमेट नहीं, कट गया चालान
हाइलाइट्स

  • मेरठ में यूपी पुलिस ने हेल्मेट पहनकर कार न चलाने पर चालान कर दिया
  • चालान की जानकारी होने के बाद कार मालिक बीजेपी नेता ने जताई नाराजगी
  • कार एक्सचेंज करने पहुंचे थे बीजेपी नेता, तब हुई कार के चालान की जानकारी

निखिल शर्मा, मेरठ

उत्तर प्रदेश के मेरठ जनपद में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां कार में हेल्मेट न पहनने पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के एक नेता का चालान काट दिया गया। चालान कटने के लगभग डेढ़ महीने बाद बीजेपी नेता को इस बात की जानकारी हुई तो वह हैरान रह गए। बीजेपी नेता का कहना है कि यदि उन्हें हेल्मेट पहनकर ही कार चलानी है फिर इससे बेहतर तो वह दोपहिया वाहन ही खरीद लें। उधर, एसपी ट्रैफिक ने इस पूरे प्रकरण को टाइपिंग मिस्टेक से संबंधित बताते हुए चालान में संशोधन की बात कही है।

मेरठ जिले के लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र में प्रह्लाद नगर के रहने वाले सुनील चड्ढा बीजेपी के महानगर उपाध्यक्ष हैं। सुनील का कहना है कि वह काफी समय से अपनी कार बेचने की सोच रहे थे। इसी मकसद से सोमवार को वह कार लेकर दिल्ली रोड स्थित गाड़ियों के एक शोरूम में गए थे ताकि अपनी कार के बदले नई कार एक्सचेंज कर लें। इस दौरान शोरूम के कर्मचारियों ने उनकी कार के कागजात के विषय में जानकारी के लिए ऑनलाइन चेकिंग की। इस पर सुनील की गाड़ी पर 6 जून 2020 की तारीख में 500 रुपये का चालान कटा मिला।

पढ़ें: ‘फोन ना करना’ कहकर अंतिम सफर पर इंदौरी



चालान निरस्त कराने जाने की मांग

सुनील के मुताबिक, उनकी गाड़ी के सभी कागजात पूरे थे, फिर भी चालान कटने की जानकारी मिलने के बाद वह हैरान रह गए। सुनील ने चालान का प्रिंट निकलवाया तो उनके होश उड़ गए। दरअसल, यह चालान हेल्मेट ना पहनने पर काटा गया था। इस पर सुनील ने आला अधिकारियों से मामले की शिकायत करते हुए चालान निरस्त किए जाने की मांग की है।

अधिकारियों को दिए गए निर्देश

दरअसल, बीजेपी नेता सुनील चड्ढा की गाड़ी का नंबर यूपी-15 बीसी 3550 है। हालांकि, चालान में जिस बाइक की फोटो दर्शाई गई है, उसका नंबर यूपी-15 बीसी 3540 है। एसपी ट्रैफिक जितेंद्र कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि कई बार जल्दबाजी में टाइपिंग मिस्टेक से ऐसा हो जाता है। एक अंक गलत टाइप होने से गलती से यह चालान सुनील की कार और उनके नाम और पते पर काट दिया गया। उन्होंने बताया कि संबंधित अधिकारियों को चालान में संशोधन के निर्देश दिए गए हैं।

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *