बस्ती: जिला जेल के 191 कैदी एक साथ मिले कोरोना संक्रमित, मचा हड़कंप

[ad_1]

बस्ती: जिला जेल के 191 कैदी एक साथ मिले कोरोना संक्रमित, मचा हड़कंप

बस्ती जिला जेल में कोरोना का कहर

सोमवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कारागार में निरुद्ध बंदियों की ट्रू नेट मशीन से जांच की, जिसमें सर्वाधिक 191 बंदी पाजिटिव पाए गए. जिला कारागार में वर्तमान समय में तकरीबन 1250 बंदी निरुद्ध हैं.

बस्ती. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बस्ती जिला जेल (Basti District Jail) को भी कोरोना (COVID-19) ने अपनी जद में ले लिया है. जिला जेल में निरिद्ध 191 कैदी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. इसकी पुष्टि जिलाधिकारी रमेश चंद्र ने की. जिलाधिकारी के मुताबिक बस्ती जिला कारागार में निरुद्ध तकरीबन 1250 बंदियाें में से 191 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव पायी गई है. सोमवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कारागार में निरुद्ध बंदियों की ट्रू नेट मशीन से जांच की, जिसमें सर्वाधिक 191 बंदी पाजिटिव पाए गए. जिला कारागार में वर्तमान समय में तकरीबन 1250 बंदी निरुद्ध हैं. अब लगभग सभी बंदियों की जांच पूरी हो चुकी है.

नए बैरक में शिफ्ट किए गए संक्रमित कैदी

बैरक संख्या पांच और आठ में निरुद्ध रहे बंदियाें में से 191 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. कोरोना संक्रमित इन सभी बंदियों को नए बैरक 9ए व 9बी में शिफ्ट करा दिया गया ताकि वे अन्य कैदियों के संपर्क में न आ सकें. इनकी निगरानी में तैनात जेल स्टाफ को पीपीई किट मुहैया करा दिया गया है. कोरोना संक्रमित बंदियाें के लिए अलग से मेडिकल टीम स्पेशल बैरक 9ए व 9बी में तैनात कर दी गई है. कमिश्नर, एसपी, सीडीओ ने जेल का निरीक्षण किया. साथ ही जरूरी निर्देश दिए.

जेल में क्षमता से ज्यादा कैदीगौरतलब है कि बस्ती जेल में क्षमता से ज्यादा कैदी बंद हैं. जिला कारागार की क्षमता लगभग 480 कैदियों की है. वर्तमान में यहां बस्ती व संतकबीरनगर जिलों के करीब 12 सौ से अधिक बंदी निरूद्ध हैं. इनमें बस्ती के साढ़े सात सौ व संतकबीरनगर के लगभग 450 कैदी हैं. जिसकी वजह से कोरोनावायरस ने जेल में इतने कैदियों को अपने चपेट में ले लिया. जनपद में अबतक 1183 लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं, जिनमे से 34 लोगों की मौत हुई है. 800 लोग कोरोना से जंग जीत कर घर गए जबकि जिले में अब 349 कोरोना के एक्टिव केस मौजूद है.



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *