डॉ. योगिता गौतम हत्याकांड: क्वारंटाइन पीरियड में आगरा गया था आरोपी डॉक्टर, फिर की हत्या

[ad_1]

डॉ. योगिता गौतम हत्याकांड: क्वारंटाइन पीरियड में आगरा गया था आरोपी डॉक्टर, फिर की हत्या

डॉ. योगिता केस में एक और चौंकाने वाला खुलासा हुआ है.

Agra Dr. Yogita Gautam Murder Case: बताया जा रहा है कि क्वारंटाइन पीरियड (Quarantine Period) के दौरान आरोपी डॉ. विवेक आगरा (Agra) पहुंचा. फिर डॉ. योगिता की हत्या करने के बाद वापस अपने सरकारी आवास पहुंच गया.

जालौन. आगरा (Agra) के एसएन मेडिकल कॉलेज (SN Medical College) के स्त्री रोग विभाग की पीजी छात्रा डॉ. योगिता गौतम (Dr Yogita Gautam) की निर्मम हत्या (Murder) मामले में पुलिस (Police) ने साथी डॉ. विवेक तिवारी (Dr Vivek Tiwari) को गिरफ्तार किया है. आरोपी की गिरफ्तारी के बाद उसका कबूलनामा भी सामने आया. डॉ विवेक तिवारी ने पुलिस को बताया है कि कैसे उन्‍होंने डॉ. योगिता गौतम की पहले गला दबाकर हत्या की और फिर कंफर्म करने के लिए चाकू से सिर पर वार किया. इसके बाद शव को झाड़ियों में फेंक दिया. बता दें कि बुधवार को डॉ योगिता का शव आगरा के बमरौली कटरा (डौकी) इलाके से बरामद किया गया था.

आगरा में हुई डॉ. योगिता गौतम की हत्या के मामले में गिरफ्तार हुए जालौन में कार्यरत डॉ. विवेक तिवारी ने पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल कर लिया है. अब इस केस में एक और चौंकाने वाली बात सामने आई है. बताया जा रहा है कि आरोपी डॉ. विवेक होम क्वारंटाइन होने के दौरान ही आगरा गया था. फिर वहां उसने  डॉ. योगिता की हत्या कर दी.

ये भी पढ़ें: बड़ी खबर: होम क्वारंटाइन हुए CM मनोहर लाल खट्टर, जानें क्या रही कोरोना टेस्ट रिपोर्ट

एक और चौंकाने वाला खुलासा

आप को बता दे कि डॉ. विवेक तिवारी पिछले कुछ सालों से जालौन में स्वास्थ्य सेवाएं दे रहे थे. वर्तमान में जनपद स्थित पुलिस ट्रेनिंग स्कूल मांगरोल में पाए गए कोविड-19 के ट्रेनी पुलिस कर्मियों के इलाज में उसी ड्यूटी लगी हुई थी. हाल ही में 13 अगस्त को होम क्वारंटाइन के लिए सीएमओ जालौन अल्पना वर्तरिया ने निर्देशित किया था. इसकी अवधि 21 अगस्त को खत्म हो रही थी. बताया जा रहा है कि होम क्वारंटाइन पीरियड के दौरान डॉ. विवेक तिवारी आगरा पहुंचा और डॉ. योगिता गौतम की हत्या कर दी. वारदात को अंजाम देने के बाद फिर वो वापस अपने उरई के पटेल नगर स्थित सरकारी आवास में क्वारंटाइन अवधि पूरी करने पहुंच गया. हालांकि, आगरा पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए डॉ. योगिता गौतम के हत्यारे डॉ. विवेक को उनके सरकारी क्वार्टर से गिरफ्तार किया. डॉ विवेक ने पुलिस के सामने अपने गुनाह भी कबूला कर लिया है.



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *