झांसी: बेतवा नदी पर बने बुंदेलखंड के सबसे अहम पुल का निकला दम, आवागमन ठप

[ad_1]

झांसी: बेतवा नदी पर बने बुंदेलखंड के सबसे अहम पुल का निकला दम, आवागमन ठप

झांसी में बेतवा नदी पर बने पुल पर आवागमन रोक दिया गया है.

झांसी (Jhansi) में बेतवा नदी का पुल क्षतिग्रस्त होने के बाद उस पर आवागमन रोक दिया गया है. पुल में आर-पार सुराख हो गया. डीएम का कहना है कि जल्द ही मरम्मत कार्य पूरा कर आवागमन खोलने की कोशिश की जा रही है.

झांसी. उत्तर प्रदेश के झांसी (Jhansi) में बुंदेलखंड (Bundelkhand) की गंगा माने जाने वाली बेतवा नदी (Betwa River) पर बना पुल ओवर लोड वाहनों (Overload Vehicles) के बोझ तले दबकर दम तोड़ दिया. ओवरलोड वाहनों के निकलने से बीच पुल में बड़ा सुराख हो गया. इस कारण जिला प्रशासन ने सुरक्षा को देखते हुए पुल से यातायात का आवागमन बंद करवा दिया है.

जिले की यह सबसे विशाल नदी बेतवा का पुल है. इसी पुल में आर-पार सुराख हो गया. कानपुर रोड से सटे तहसील मोठ के कस्बा पूछ से गरौठा तहसील में जाने वाले वाहन इसी बेतवा पुल से गुजरते हैं. पूर्व में बेतवा नदी में अवैध खनन और ओवरलोड के कारण 1 किलोमीटर लंबा पुल जर्जर हो गया.

24 साल पहले पुल बनने से लोगों को मिली थी बड़ी खुशी

24 साल पहले तत्कालीन राज्यपाल रोमेश भंडारी ने इस पुल का शुभारंभ किया था. यह पुल निर्माण के बाद बारिश के वक्त में लाखों लोगों के आवागमन का साधन बन गया था. कानपुर के रास्ते झांसी होते हुए एरच कस्बे में बने इस पुल से मध्य प्रदेश के छतरपुर के लोग यात्रा करते है. साथ ही जिले के गरौठा तहसील जाने के लिए एरच में बेतवा नदी पर बना पुल सबसे अच्छा विकल्प माना जाता है.जल्द आवागमन शुरू कराने की चल रही कोशिश: डीएम

पुल के आर-पार क्षतिग्रस्त होने से जिलाधिकारी आंद्रा वामसी ने आम जनमानस की सुरक्षा को देखते हुए पुल के दोनों तरफ दीवार बनाकर पुल पर आवागमन को पुल के मरम्मत होने तक बंद करवा दिया है. कार्यदायी संस्था को आदेश दिया गया है कि जल्द से जल्द पुल के क्षतिग्रस्त हिस्से की मरमम्त करवाकर आम जनमानस के पुल को आवागमन के लिए शुरू किया जाए. जब तक बेतवा नदी के पुल का क्षतिग्रस्त हिस्सा पूरी तरह से सही नहीं हो जाता, किसी भी तरह के वाहनों के संचालन के साथ लोगो की आवाजाही पर पूरी तरह प्रतिबन्ध रहेगा.



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *