कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से जल्द भरेगी उड़ान, टर्मिनल बिल्डिंग का हुआ शिलान्यास

[ad_1]

कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से जल्द भरेगी उड़ान, टर्मिनल बिल्डिंग का हुआ शिलान्यास

कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से जल्द भरेगी उड़ान (file photo)

शिलान्यास कार्यक्रम के बाद एयरपोर्ट (Airport) के निदेशक ए.के द्विवेदी ने बताया की यह एयरपोर्ट अंतरराष्ट्रीय स्तर का है. जिसके लिए इस नई टर्मिनल बिल्डिंग का निर्माण किया जा रहा है.

कुशीनगर. उत्तर प्रदेश के कुशीनगर (Kushinagar International Airport) अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से शीघ्र उड़ान शुरू हो सकती है. केंद्र सरकार द्वारा कुशीनगर एयरपोर्ट को जल्द शुरू करने का निर्देश मिलने के बाद एयरपोर्ट अथॉरटी ऑफ इंडिया ने तेजी से काम शुरू कर दिया है. इस एयरपोर्ट को जल्द शुरू करने और इंटरनेशनल मानकों को पूरा करने के लिए एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने नई टर्मिनल बिल्डिंग बनाने का काम शुरू कर दिया है. गोरखपुर एयरपोर्ट के निदेशक और निर्माणाधीन कुशीनगर एयरपोर्ट के निदेशक ए.के द्विवेदी ने नई टर्मिनल बिल्डिंग का भूमिपूजन कर शिलान्यास किया.

कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट को जल्द शुरू कराने के लिए पुरानी टर्मिनल बिल्डिंग के स्थान पर इस टर्मिनल बिल्डिंग का निर्माण किया जा रहा है. जर्मन तकनीकी से बनने वाली इस टर्मिनल बिल्डिंग की लागत लगभग 26 करोड़ रुपए है. महाराष्ट्र की वेस्टर्न आउटडोर स्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड इस टर्मिनल बिल्डिंग को बना रही है. जिसे तीन महीने में काम को पूरा करना है. अंतरराष्ट्रीय स्तर की सुरक्षा और यात्रियों को ठहरने के मानकों को ध्यान में रखकर इस टर्मिनल बिल्डिंग का निर्माण किया जाएगा.

अंग्रेजी हुकूमत में बनी थी हवाई पट्टी

कुशीनगर में पर्यटन की संभावनाओं को देखते हुए तत्कालीन मुख्यमंत्री मायावती ने 5 सितंबर 1995 को अंग्रेजी हुकूमत में बने हवाई पट्टी को विकसित करके इंटरनेशनल एअरपोर्ट बनाने शुभारंभ किया था. इसके बाद 10 अक्टूबर 1995 को ही कांग्रेस सरकार के केंद्रीय विमानन मंत्री गुलाम नबी आजाद और यूपी के राज्यपाल मोती लाल बोरा ने टर्मिनल बिल्डिंग का शिलान्याश किया था.तीन महीने में होगी टर्मिनल का निर्माण पूरा

शिलान्यास कार्यक्रम के बाद एयरपोर्ट के निदेशक ए.के द्विवेदी ने बताया की यह एयरपोर्ट अंतरराष्ट्रीय स्तर का है. इसलिए यहां की सुरक्षा व्यवस्था, यात्रियों को रुकने के साथ ही अन्य सुविधाएं भी अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की होनी चाहिए. जिसके लिए इस नई टर्मिनल बिल्डिंग का निर्माण किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि तीन महीने के भीतर इस टर्मिनल बिल्डिंग का निर्माण पूरा हो जाएगा, जिसके बाद यहां से उड़ान शुरू हो जाएगी.



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *