एनकाउंटर के डर से हाथ में पोस्टर लेकर थाने पहुंचा आरोपी, अपराध से किया तौबा

[ad_1]

एनकाउंटर के डर से हाथ में पोस्टर लेकर थाने पहुंचा आरोपी, अपराध से किया तौबा

एनकाउंटर के डर से हाथ में पोस्टर लेकर थाने पहुंचा आरोपी

सीओ (CO) कैराना प्रदीप कुमार ने बताया कि आरोपी के खिलाफ गोकशी के दो मुकदमे दर्ज मिले हैं. एहसान ने खुद कोतवाली में आकर अपराध से तौबा की.

शामली. कानपुर शूटआउट (Kanpur Shootout) के मुख्य आरोपी विकास दुबे (Vikas Dubey Encounter) के एनकाउंटर के बाद बदमाशों में मौत का डर सता रहा है. इसी कड़ी में शामली जिले में एक गोकशी का आरोपी सरेंडर करने कोतवाली पहुंच गया. इस दौरान उसके हाथों में पोस्टर लेकर अपराध से तौबा-तौबा लिखा हुआ एक पर्चा भी था. वहीं 15 दिन पूर्व गोकशी की सूचना पर पुलिस ने एक मकान पर छापा मारा था. जहां से यह आरोपी फरार हो गया था.

दरअसल 21 जुलाई की शाम कैराना पुलिस ने गांव भूरा में एक मकान में गोकशी पकड़ी थी. पुलिस ने मौके से गोकशी कर रहे आरोपी यूसुफ निवासी गांव भूरा को गिरफ्तार कर लिया था, जबकि तीन आरोपी एहसान, आरिफ व नसीम मौके से फरार हो गए थे. पांच दिन बाद फरार तीन आरोपियों में से आरिफ व नसीम को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर चालान कर दिया था, लेकिन एहसान निवासी गांव भूरा फरार चल रहा था. एहसान आज अपने हाथों में अपराध से तौबा-तौबा लिखा एक पर्चा लेकर कोतवाली पहुंचा और प्रभारी प्रेमवीर राणा के सामने पेश हुआ.

ये भी पढे़ं- UP: अयोध्या भूमि पूजन कार्यक्रम के मद्देनजर नेपाल सीमा पर बढ़ाई गई सुरक्षा

उसने बताया कि उस पर गोकशी के दो मुकदमे दर्ज हैं, लेकिन मैं अब से अपराधों से तौबा करना चाहता हूं. मुझे आप गिरफ्तार कर जेल भेज दीजिए. सीओ कैराना प्रदीप कुमार ने बताया कि आरोपी के खिलाफ गोकशी के दो मुकदमे दर्ज मिले हैं. एहसान ने खुद कोतवाली में आकर अपराध से तौबा की. पुलिस ने आरोपी का चालान कर दिया है. वहीं आरोपी ने बताया कि पुलिस कही उसका एनकाउंटर न कर दे, इसलिए भी उसने कोतवाली में आत्मसमर्पण किया है. वह अब अपराध से दूर रहना चाहता है.(रिपोर्ट- शाहनवाज राणा)



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *