आजमगढ़ ग्राम प्रधान हत्या: सीओ अजय यादव पर गिरी गाज, मनोज रघुवंशी को मिली कमान

[ad_1]

आजमगढ़ ग्राम प्रधान हत्या: सीओ अजय यादव पर गिरी गाज, मनोज रघुवंशी को मिली कमान

लालगंज सीओ अजय यादव हटाए गए

Azamgarh Murder: एसपी प्रो त्रिवेणी सिंह ने मामले के खुलासे के लिए एसपी सिटी और एसपी क्राइम के नेतृत्व में 6 टीमें गठित की हैं. टीम को एसपी ने 24 घंटे के अंदर हत्यारोपियों की गिरफ्तारी का अल्टीमेटम दिया है.

आजमगढ़. पिछले चार दिनों में तीन हत्याओं के बाद अब ताबड़तोड़ कार्रवाई का सिलसिला जारी है.  क्राइम कण्ट्रोल (Crime Control) में नाकाम रहने पर देवगांव और तरवां इंस्पेक्टर व बोंगरिया चौकी प्रभारी पर कार्रवाई के बाद सीओ पर गिरी गाज. एसपी प्रो त्रिवेणी सिंह (SP Triveni Singh) ने ग्राम प्रधान की गोली मारकर हत्या (Murder) के मामले में लालगंज सीओ अजय यादव को हटाते हुए सीओ सगड़ी मनोज कुमार रघुवंशी को कमान सौंपी गई है.

न्यूज़ 18 पर खबर दिखाए जाने के बाद एक्शन मोड में आये एसपी प्रो त्रिवेणी सिंह ने मामले के खुलासे के लिए एसपी सिटी और एसपी क्राइम के नेतृत्व में 6 टीमें गठित की हैं. टीम को एसपी ने 24 घंटे के अंदर हत्यारोपियों की गिरफ्तारी का अल्टीमेटम दिया है. उधर पुलिस और स्वाट टीम हत्यारोपियों के ठिकाने पर लगातार दबिश दे रही है. एहतियातन गांव में फोर्स को तैनात किया गया है. फ़िलहाल शांति-व्यवस्था कायम है.

ये है पूरा मामला

14 अगस्त की रात तरवां थाना क्षेत्र के बांस गांव के ग्राम प्रधान सत्यमेव जयते  उर्फ पप्पू राम शुक्रवार को गांव के बाहर स्थित एक निजी स्कूल के पास से जा रहे थे. इसी दौरान गांव के ही विवेक सिंह और सूर्यांश दुबे, जो उसके दोस्त हैं, उसे दावत के बहाने अपने साथ ट्यूबेल पर ले गए. यहां किसी बात को लेकर कहासुनी हुई और दोनों ने ग्राम प्रधान को गोली मारकर उनकी हत्या कर दी.हत्या के बाद बदमाशों ने दुस्साहस का परिचय देते हुए इसकी जानकारी खुद ग्राम प्रधान के घरवाले को दी और फरार हो गए. ग्राम प्रधान की हत्या की जानकारी के बाद ग्रामीण आक्रोशित हो गए. उन्होने सड़क जामकर प्रदर्शन किया. तोड़फोड़ के साथ कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया.



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *