अयोध्या: राम मंदिर भूमि पूजन में शामिल होंगे कल्याण सिंह, बोले- मेरे जीवन का सबसे बड़ा उत्सव


राम मंदिर भूमि पूजन में शामिल होंगे कल्याण सिंह (file photo)

इस ध्वंश के बाद कल्याण सिंह (Kalyan Singh) को न सिर्फ सत्ता गंवानी पड़ी थी बल्कि न्यायालय की अवमानना के मामले में जेल भी जाना पड़ा था और जुर्माना भी भरना पड़ा था.

अयोध्या. राम के धुन में रमा है जग सारा. देशवासियों का सैकड़ों वर्ष पुराना राम मंदिर (Ram Mandir) का सपना 5 अगस्त को भूमि पूजन के साथ साकार होने जा रहा है. इस कार्यक्रम में राम मंदिर आंदोलन से जुड़े पुरोधाओं को भी आमंत्रित किया गया है. इन्हीं में से एक हैं राजस्थान (Rajasthan) के पूर्व राज्यपाल और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह (Kalyan Singh). पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह ने कहा कि राम मंदिर भूमि पूजन में शामिल होने के लिए 4 अगस्त अयोध्या जाऊंगा. उन्होंने कहा कि राम मंदिर का निर्माण मेरे लिए किसी सपने से कम नहीं, वहीं 5 अगस्त को भूमि पूजन में शामिल होने का अवसर मिल रहा है, ये मेरे जीवन का सबसे बड़ा उत्सव होगा.

कल्याण सिंह को गंवानी पड़ी थी सत्ता

इस कार्यक्रम में राम मंदिर आंदोलन से जुड़े पुरोधाओं को भी आमंत्रित किया गया है. इन्हीं में से एक हैं कल्याण सिंह (Kalyan Singh). 6 दिसंबर 1992 जब कार सेवकों ने विवादित ढांचे को गिरा दिया था उस समय उत्तर प्रदेश में कल्याण सिंह मुख्यमंत्री थे. इस ध्वंश के बाद कल्याण सिंह को न सिर्फ सत्ता गंवानी पड़ी थी बल्कि न्यायालय की अवमानना के मामले में जेल भी जाना पड़ा था और जुर्माना भी भरना पड़ा था.

आकांक्षा पूरी हो गई!

राममंदिर आंदोलन (Ram temple movement) के पुरोधा उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राजस्थान के राज्यपाल रह चुके कल्याण सिंह भी भूमिपूजन में शिरकत करने अयोध्या जाएंगे. बुधवार को News 18 संवाददाता ने कल्याण सिंह से राम मंदिर आंदोलन से लेकर कई विषयों पर ख़ास बातचीत की. उन्होंने कहा ‘मंदिर का शिलान्यास होने जा रहा है. भूमि पूजन होगा, 5 अगस्त मेरे लिए बहुत ही खुशी का दिन होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) स्वंय आ रहे हैं. साधु-संत के साथ गणमान्य लोग भी पहुंचेंगे. मेरी आकांक्षा पूरी हो गई’.

सुबह करीब 11.15 बजे अयोध्‍या पहुंचेंगे पीएम मोदी
सूत्रों के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्‍त को सुबह करीब 11.15 बजे अयोध्‍या पहुंचेंगे. अयोध्‍या पहुंचने के बाद वह सबसे पहले हनुमानगढ़ी के दर्शन करेंगे. हनुमानगढ़ी के बाद वह रामलला के दर्शन करेंगे और फिर भूमिभूजन कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहुंचेंगे. यहां करीब दो घंटे से अधिक समय तक रहने के बाद प्रधानमंत्री मोदी दोपहर करीब दो बजे अयोध्‍या से रवाना हो जाएंगे. प्रधानमंत्री के इस कार्यक्रम को देखते हुए उत्‍तर प्रदेश सरकार के मुख्‍य सचिव, गृह सचिव, पुलिस महानिदेशक ने एसपीजी के अधिकारियों और मंदिर ट्रस्‍ट के साथ बैठक की है.





Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *