अब बाबरी नहीं! इस नाम पर होगी अयोध्या में तैयार होने वाली मस्जिद

[ad_1]

हाइलाइट्स:

  • अयोध्या में 5 अगस्त को राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन किया गया था, पीएम मोदी ने की थी पूजा
  • मंदिर निर्माण के साथ अब मस्जिद निर्माण की भी तैयारियों में तेजी, बाबरी नहीं होगा मस्जिद का नाम
  • मस्जिद निर्माण के लिए बनाए गए ट्रस्ट की ओर से कहा गया, बाबरी नहीं बल्कि स्थान के नाम पर होगी मस्जिद

अखिलेश तिवारी, अयोध्या
अयोध्या में बनने वाले भव्य राम मंदिर का भूमि पूजन 5 अगस्त को किया जा चुका है। मंदिर का निर्माण कार्य शरू होने के साथ ही अब मस्जिद को लेकर भी तैयारियां तेज हो गई हैं। यही नहीं, 5 एकड़ जमीन पर बनने वाली मस्जिद का नाम भी लगभग तय कर लिया गया है। अयोध्या शहर के बाहर 5 एकड़ जमीन पर बनने वाली मस्जिद का नाम बाबर के नाम पर नहीं होगा, बल्कि मस्जिद को उसी नाम से जाना जाएगा, जिस जगह पर यह बनने जा रही है।

मस्जिद निर्माण के लिए बनाए गए ट्रस्ट की ओर से कहा गया है कि वह इस बार किसी भी विवाद में नहीं फंसना चाहते हैं। इसके चलते अब किसी भी शासक के नाम पर मस्जिद का नाम नहीं होगा।

यह होगा मस्जिद का नाम
सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड की ओर से गठित इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन के सचिव अतहर हुसैन का कहना है, ‘मस्जिद के लिए 5 एकड़ जमीन अयोध्या के रौनाही कस्बे के धन्नीपुर में दी गई है। ऐसे में अब धन्नीपुर में ही मस्जिद का निर्माण होगा तो मस्जिद का नाम भी धन्नीपुर गांव के नाम पर ही होगा।’ उन्होंने बताया है कि पहले मस्जिद के नामों में अमन मस्जिद और सूफी मस्जिद पर भी विचार किया गया था लेकिन अब इस मस्जिद का नाम धन्नीपुर ही होगा।

3 महीने में शुरू होगा निर्माण
मस्जिद के निर्माण को लेकर यह जानकारी भी सामने आई है कि जल्द ही निर्माण कार्य शुरू करने के लिए 2 बैंक खाते भी खोले जाएंगे। इसके जरिए मस्जिद निर्माण के लिए चंदे की राशि जुटाई जाएगी। इनमें से एक खाता मस्जिद निर्माण के लिए होगा जबकि दूसरे खाते में आए पैसे से मस्जिद के आसपास बनने वाले अस्पताल, सामुदायिक रसोईघर और शैक्षणिक केंद्र बनाया जाएगा। बोर्ड का कहना है कि मेड़बंदी का काम शुरू कर दिया गया है और आने वाले 3 महीनों में मस्जिद निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *