अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने भोजन और डाक्टरी सहायता देने के लिए मोदी को कहा थैंक्स

[ad_1]

NBT
हाइलाइट्स

  • पीएम ने अशरफ गनी को हर संभव मदद का भरोसा दिया
  • दोनों ने फोन पर एक-दूसरे को ईद-उल-अजहा की बधाई दी
  • अशरफ गनी ने भारत की ओर से दी गई मदद के लिए धन्यवाद किया

नई दिल्ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने सोमवार को क्षेत्र में उभरती सुरक्षा स्थिति और परस्पर एवं द्विपक्षीय हितों से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि दोनों नेताओं ने टेलीफोन पर हुई बातचीत में एक दूसरे को ईद-उल-अजहा की शुभकामनाएं भी दीं।

गनी ने अफगानिस्तान की आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए सही समय पर भोजन एवं डाक्टरी सहायता की आपूर्ति करने के लिए प्रधानमंत्री का धन्यवाद किया। बयान के अनुसार मोदी ने शांतिपूर्ण, समृद्ध और समावेशी अफगानिस्तान की आकांक्षा कर रहे अफगान लोगों के प्रति भारत की कटिबद्धता दोहराई। बयान में कहा गया कि दोनों नेताओं ने इस क्षेत्र में उभरती सुरक्षा स्थिति के साथ-साथ आपसी द्विपक्षीय हितों वाले अन्य क्षेत्रों पर भी विचार-विमर्श किया। दोनों नेताओं के बीच यह बातचीत ऐसे समय में हुई है जब पूर्वी अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत की एक जेल पर आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट का हमला सोमवार को भी जारी रहा।



सोमवार को भी जारी रहा हमला


पूर्वी अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत की एक जेल पर आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट का हमला सोमवार को भी जारी रहा और अब तक इस हमले में 21 लोग मारे जा चुके हैं। जेल में इस आतंकवादी समूह के सैकड़ों सदस्य भी बंद हैं। एक स्थानीय अधिकारी ने बताया कि इस हमले में अब तक 43 लोग घायल हो चुके हैं। नंगरहार प्रांत की राजधानी जलालाबाद में रविवार शाम को तब हमला शुरू हुआ था जब इस्लामिक स्टेट के एक आत्मघाती बम हमलावर ने विस्फोटक से लदे अपने वाहन को जेल के गेट से टकरा दिया। उसके बाद कई हमलावर गोलियां चलाने लगे।

मारे गए हमलावर

नंगरहार प्रांत के गर्वनर के प्रवक्ता अताउल्ला खोग्यानी ने बताया कि तीन हमलावर मारे गए हैं। सोमवार को भी यह संघर्ष जारी है तथा जेल परिसर में रूक-रूक कर गोलीबारी हो रही है। खोग्यानी ने बताया कि मृतकों में जेल के कुछ कैदियों के अलावा आम नागरिक, जेल के गार्ड और अफगान सुरक्षा कर्मी शामिल हैं। पुलिस को संदेह है कि कुछ आतंकवादी समीप के रिहायशी परिसरों में पहुंच गये हैं जिससे उनका सफाया करना मुश्किल हो रहा है। खोग्यानी के अनुसार सुरक्षाबल बड़ी सावधानी से आगे बढ़ रहे हैं ताकि आम नागरिक हताहत न हों।

देश-दुनिया और आपके शहर की हर खबर अब Telegram पर भी। हमसे जुड़ने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें ..और पाते रहें हर जरूरी अपडेट।

[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *