अपहरण की अफवाह के बाद युवक को पकड़ कर लोगों ने पीटा, फिर पता चला….

[ad_1]

अपहरण की अफवाह के बाद युवक को पकड़ कर लोगों ने पीटा, फिर पता चला....

अब इस वायरल वीडियो की सच्चाई सामने आ गई है.

यूपी पुलिस (UP Police) की तफ्तीश में मामला कुछ और ही निकला. पुलिस ने जब इस वायरल वीडियो (Viral Video) की तहकीकात की तो मामला एक महिला के साथ अवैध संबंध से जुड़ा पाया गया.

चंदौली. बीते कुछ दिनों से उत्तर प्रदेश के चंदौली (Chandauli) के बलुआ थाना क्षेत्र में भीड़ द्वारा एक युवक की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) पर तेजी से वायरल हो रहा था. अब इस वायरल वीडियो (Viral Video) की सच्चाई सामने आ गई है. इस वायरल वीडियो में शुरुआती तौर पर बताया जा रहा था कि बच्चे को अपहरणकर्ता की भीड़ ने पिटाई की है, लेकिन यूपी पुलिस (UP Police) की तफ्तीश में मामला कुछ और ही निकला. पुलिस ने जब इस वायरल वीडियो की तहकीकात की तो मामला एक महिला के साथ अवैध संबंध से जुड़ा पाया गया. चंदौली पुलिस अब अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई में जुट गई है.

17 अगस्त को वीडियो वायरल हुआ था
दरअसल यह पूरा मामला 17 अगस्त का बताया जा रहा है. जब सोनू नाम का एक व्यक्ति बलुआ थाना के विजयपुरा गांव में गया था. वहां सोनू के पूर्व में विरोधी किशन और साथियों ने दोनों को चोर बताते हुए उस पर हमला कर दिया. इस दौरान काफी भीड़ घटना स्थल पर इकट्ठा हो गई.

वीडियो में दिखाया गया है कि भीड़ द्वारा सोनू को बच्चा चोर कहकर पिटाई की जा रही है. इस दौरान किसी ने पुलिस को सूचना दी तो मौके पर पहुंची पुलिस युवक को और दूसरे पक्ष को थाने ले आई. दोनों पक्षों के लोगों के खिलाफ शांति भंग की आशंका के तहत 151 में कार्रवाई कर दी.बच्चे की थी अपहरण की बात
इस दौरान कुछ लोगों ने यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. यह बताते हुए कि पिट रहा युवक बच्चे का अपहरण करने गया था और उस दौरान भीड़ ने उसकी पिटाई की है. पुलिस ने इस मामले को संज्ञान में लेते हुए जांच की तो पूरा मामला आशनाई से जुड़ा है. जिस युवक की पिटाई हो रही है. उसका संबंध दूसरे पक्ष से किसी महिला से था. जिसको को लेकर पूर्व में भी विवाद हुआ है और 17 तारीख को जब वे युवक महिला से मिलने गांव गया तो दूसरे पक्ष ने उस पर हमला कर दिया.

ये भी पढ़ें: SSR Death Case: SC के फैसले के बाद परिवार की पहली प्रतिक्रिया, नीतीश कुमार के बारे में कही यह बड़ी बात

बता दें कि पिट रहा युवक सोनू और महिला वाराणसी में एक क्रिमिनल एक्टिविटी के चलते जेल भी जा चुके है. फिलहाल सीओ अवधेश चिकारा ने बतायाा कि दोनों पक्षों के खिलाफ पुलिस ने 151 धारा में कार्रवाई करते हुए उन्हें पाबंद किया है. वहीं अफवाह फलाने के मामले में पुलिस अब कार्रवाई करने की बात कह रही है.



[ad_2]

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *